चरमपंथी हमले की आशंका से फ़िल्म महोत्सव रद्द

फ़िल्म टिंबकटू का एक सीन इमेज कॉपीरइट AP

बेल्जियम में रैमडैम फ़िल्म महोत्सव के आयोजकों ने ख़तरे की आशंका की वजह से बाक़ी स्क्रीनिंग टालने का फ़ैसला किया है.

बेल्ज़ियम के इस फ़िल्म फ़ेस्टिवल में फ़िल्म 'टिंबकटू' दिखाने का फ़ैसला किया गया था जो एक बर्बर जेहादी संगठन के ख़िलाफ़ माली के लोगों के प्रतिरोध पर आधारित है.

इस फ़िल्म में एक जेहादी समूह माली के एक क्षेत्र पर नियंत्रण कर लेते हैं.

ऐसा माना जाता है कि इस फ़िल्म की वजह से इस आयोजन पर हमले का ख़तरा बढ़ा है.

नामांकित

फ़्रांस-मॉरिटॉनिया से जुड़ी यह फ़िल्म ऑस्कर के लिए भी नामांकित हुई है.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption 'टिंबकटू' विदेशी भाषा की श्रेणी में ऑस्कर के लिए नामांकित हुई है.

इस फ़िल्म फ़ेस्टिवल के आयोजकों का कहना है कि यह आयोजन हमेशा सारे लोगों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए समर्पित रहा है.

फ़ेस्टिवल की शुरुआत इसी हफ़्ते हुई थी लेकिन गुरुवार को पुलिस की सलाह के बाद मुख्य फ़िल्म की स्क्रीनिंग नहीं की गई.

इस महीने की शुरुआत में बेल्ज़ियम प्रशासन ने सीरिया से लौटे चरमपंथियों के ख़िलाफ़ अभियान चलाया था और कई लोगों को गिरफ़्तार भी किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार