जाना था सीरिया पर पहुंच गईं जेल

अमरीकी एटॉर्नी रॉबर्ट पेपिन इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मामले में सरकारी वकील मीडिया से बात करते हुए.

अमरीकी शहर डेनवर की एक अदालत ने सीरिया और इराक़ में सक्रिय चरमपंथी समूह इस्लामिक स्टेट की मदद के लिए सीरिया जाने की योजना बना रही एक युवती को चार साल जेल की सज़ा दी है.

मुस्लिम धर्म अपनाने वाली कोलोराडो की शैनन कॉनली नाम की 19 वर्षीय युवती को एक अमरीकी अदालत ने शुक्रवार को सज़ा सुनाई.

युवती की योजना सीरिया में अपने मंगेतर के साथ आईएस की गतिविधियों में शामिल होना था लेकिन ख़ुफ़िया एजेंसी एफ़बीआई ने उसे रोक लिया.

न्याय विभाग का कहना है कि कॉनली को आईएस और दूसरे चरमपंथी संगठनों को मदद पहुंचाने के जुर्म में चार साल की सज़ा हुई है.

प्रेम से जेहाद तक

कॉनली की मुलाक़ात इंटरनेट पर एक शख़्स से हुई जिसने सीरिया में आईएस का सक्रिय सदस्य होने का दावा किया.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption सुनवाई के दौरान यूएस फेडरल कोर्ट के बाहर मुस्तैद सुरक्षाकर्मी.

इसके बाद ही कॉनली का रुझान इस ओर हुआ और उन्होंने सीरिया जाकर अपने मंगेतर के साथ काम करने का फ़ैसला कर लिया.

एफ़बीआई के विशेष एजेंटों ने उनसे कई दफ़ा मुलाक़ात कर उन्हें अपनी योजनाओं को टालने और विदेश यात्रा पर जाने से मना किया.

पिछले साल अप्रैल में जब वह तुर्की जाने वाले एक विमान में सवार होने की कोशिश कर रही थीं, तभी उन्हें गिरफ़्तार किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार