मुझे अमरीका पर भरोसा नहीं: फिदेल कास्त्रो

  • 27 जनवरी 2015
फ़िदेल कास्त्रो इमेज कॉपीरइट AP

क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फ़िदेल कास्त्रो ने अमरीका से रिश्ते बेहतर बनाने के प्रयासों पर सवाल उठाए हैं.

क्यूबा के सरकारी अख़बार 'ग्रैनमा' में प्रकाशित एक पत्र में फ़िदेल ने कहा है कि वे अमरीका पर भरोसा नहीं करते.

इस पूर्व गुरिल्ला नेता ने कहा, "मैं अमरीका की नीतियों पर भरोसा नहीं करता, न ही मैंने उनके साथ कोई बातचीत की है."

कास्त्रो ने अपने पत्र में लिखा है, "इसका मतलब यह भी नहीं है कि मैं विवादों के शांतिपूर्ण समाधान के ख़िलाफ़ हूं."

क्यूबा के वर्तमान राष्ट्रपति और फ़िदेल के छोटे भाई राउल कास्त्रो ने पिछले दिनों अमरीका के साथ बातचीत की शुरुआत करने का ऐलान किया था.

फ़िदेल कास्त्रो के शासनकाल में लंबे समय तक दोनों देशों के बीच कूटनीतिक संबंध नहीं था.

शांतिपूर्ण समझौते के हिमायती

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो और अमरीकी राष्ट्रतपि बराक ओबामा.

क्यूबा सरकार ने अमरीका से संबंध सुधारने के प्रयासों के लिए अपनी जेलों में बंद कई अमरीकियों को रिहा किया था.

इसके बाद अमरीका में बंद क्यूबा के कुछ नागरिक रिहा किए गए थे.

कास्त्रो ने पत्र में लिखा है, "देश में कई लोगों को यह लग रहा होगा कि सरकार का यह फ़ैसला मेरी सहमति के बग़ैर नहीं लिया गया होगा."

फ़िदेल कास्त्रो ने यह भी कहा कि राजनीतिक विरोधियों समेत तमाम लोगों के साथ बेहतर संबंध और दोस्ताना रिश्ते की वे हमेशा हिमायत करते रहेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार