मशीनी दिमाग बन सकता है ख़तरा: बिल गेट्स

  • 30 जनवरी 2015
बिल गेट्स इमेज कॉपीरइट AP

माइक्रोसाफ़्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने कहा है कि लोगों को आर्टिफ़ीशियल इंटेलिजेंस (एआई) या कृत्रिम बुद्धिमत्ता की ओर से पेश होने वाली चुनौतियों को लेकर चिंतित होना चाहिए.

उन्होंने कहा कि वह यह नहीं समझ पा रहे हैं कि कुछ लोग एआई के इंसान पर भारी पड़ने की संभावना से चिंतित क्यों नहीं हैं.

ऐसा कहकर बिल गेट्स ने माइक्रोसाफ़्ट के शोध विभाग के प्रमुख एरिक हॉर्विट्ज़ के उस विचार का खंडन किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि बुनियादी रूप से वो एआई को ख़तरे के रूप में नहीं देखते हैं.

मशीनों का भविष्य

इमेज कॉपीरइट Getty

हॉर्विट्ज़ ने कहा था कि उनकी टीम के एक चौथाई सदस्यों का ध्यान एआई पर लगा हुआ है.

रेडिट वेबसाइट पर सवाल-जबाव को लेकर आयोजित 'आस्क मी एनीथिंग' सत्र में गेट्स ने सवालों के जवाब देते हुए कहा,'' मैं उस खेमे में हूं जिसकी चिंता सुपर इंटेलिजेंस को लेकर है. पहली बात यह कि मशीनें हमारे लिए बहुत से काम कर देंगी लेकिन वो सुपर इंटेलिजेंट नहीं होंगी. अगर इसका हमने सही प्रबंधन कर लिया तो यह हमारे लिए सकारात्मक हो सकती हैं.''

उन्होंने लिखा,'' कुछ दशक बाद बुद्धिमता हमारे लिए चिंता का बड़ा विषय होगी. इस मुद्दे पर मैं एलन मस्क और कुछ अन्य लोगों के साथ सहमत हूं. लेकिन यह नहीं समझ पा रहा हूं कि कुछ लोग इसको लेकर चिंतित क्यों नहीं हैं.''

गेट्स के विचारों का मस्क और प्रोफ़ेसर स्टीफ़न हॉकिंग जैसे लोगों ने समर्थन किया है. दोनों लोगों ने इस संभावना को लेकर चेतावनी दी थी कि एआई इतना विकसित हो सकता है कि वह इंसान के नियंत्रण से बाहर हो जाए. प्रोफ़ेसर हॉकिंग ने कहा कि उन्हें लगता है कि एआई से युक्त मशीन मानव जाति के अंत का संकेत हो सकती है.

बुद्धिमता पर नियंत्रण

इमेज कॉपीरइट Getty

हॉर्विट्ज़ ने कहा,''चिंता जताई जा रही है कि आगे चलकर हम कुछ निश्चित तरह की एआई से नियंत्रण खो देंगे. लेकिन मेरा बुनियादी रूप से मानना है कि ऐसा नहीं होने वाला है.''

उन्होंने यह बात एआई के क्षेत्र में असाधारण शोध के लिए दिए जाने वाले एएएआई फ़िज़ेनबाम पुरस्कार लेने के बाद कही.

उन्होंने कहा,'' मुझे लगता है कि हम एआई से मुक़ाबले को लेकर बहुत अधिक सक्रिय हो जाएंगे और अंत में हम एआई से असाधारण फ़ायदे लेने में सक्षम होंगे. यहां तक की विज्ञान से लेकर शिक्षा और अर्थशास्त्र जैसे क्षेत्रों में भी.''

हॉर्विट्ज़ माइक्रोसाफ़्ट के रेडमंड मुख्यालय में माइक्रोसाफ़्ट रिसर्च लैब को चलाते हैं.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption बिल गेट्स को लगता है कि अगले तीन दशक मशीनी बुद्धिमता के लिए बहुत महत्वपूर्ण है.

इस लैब में कॉर्टाना को भी बनाया गया है. कॉर्टाना के जरिए आप अपने माइक्रोसॉफ़्ट फ़ोन को बोल कर कोई काम करने के लिए कह सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार