ग्रीस का क़र्ज़ माफ़ नहीं होगा: मर्केल

जर्मन चांसलर, एंगेला मर्केल इमेज कॉपीरइट AFP

जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल ने ये कहते हुए ग्रीस के क़र्ज़ को माफ़ करने से इंकार कर दिया है कि ऋणदाता और बैंक पहले ही पर्याप्त रियायत दे चुके हैं.

लेकिन मर्केल ने 'हैम्बर्गर आबेंडब्लाट' अख़बार से ये भी कहा कि वो चाहती हैं कि ग्रीस यूरोज़ोन में ही रहे.

ग्रीस की वामपंथी सिरीज़ा पार्टी ने पिछले हफ़्ते हुए चुनाव में जीत दर्ज की थी और आधे क़र्ज़ को माफ़ करवा लेने का वादा किया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उनके वित्त मंत्री यानिस वारुफाकिस ने ग्रीस के क़र्ज़ की निगरानी करने वाले तीन वैश्विक संस्थाओं के समूह 'ट्रोइका' को 'सड़ी हुई समिति' बताया.

यूरोपीय आयोग, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और यूरोपीय केंद्रीय बैंक से बने 'ट्रोइका' ने ग्रीस की पिछली सरकार को 270 अरब डॉलर क़र्ज़ देने पर सहमति जताई थी.

यानिस वारुफाकिस ने ट्रोइका के साथ काम करने और क़र्ज़ की शर्तों पर फिर से बात करने से इंकार कर दिया था.

साथ ही उन्होंने पिछली सरकार के दौरान अपनाए जा रहे ख़र्चों में कटौती के उपायों को वापस लेना शुरू कर दिया है.

यूरोपीय संघ के वित्त मामलों के कमिश्नर पियेरे मोस्कोविसि ने बीबीसी के कार्यक्रम 'हार्ड टॉक' में कहा कि ग्रीस को अपनी पिछली प्रतिबद्धताओं का सम्मान करना चाहिए. हालांकि वो चाहते हैं कि ग्रीस यूरोज़ोन में ही बना रहे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार