अमरीका में तीन मुसलमान छात्रों की हत्या

चैपल हिल हत्या इमेज कॉपीरइट TWITTER
Image caption चैपल हिल में दीह बराक़त, उनकी पत्नी अबू साल्हा और उनकी बहन रज़ा मोहम्मद के शव मिले हैं. (तस्वीर नादिया अली के फ़ेसबुक से)

अमरीकी पुलिस ने उत्तरी कैरोलाइना में एक घर में तीन छात्रों के शव मिलने के बाद एक व्यक्ति को गिरफ़्तार कर लिया है.

दीह बरक़त (23), उनकी पत्नी उसर मोहम्मद अबू साल्हा (21) और उनकी बहन रज़ा मोहम्मद अबू साल्हा (19) को मंगलवार को उनके घर पर मृत पाया गया था. इन तीनों के ही सिर पर गोलियां मारी गई हैं.

46 वर्ष के क्रैग स्टीफ़न हिक्स को हत्या के आरोपों में गिरफ़्तार किया गया है.

यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैरोलाइना के नज़दीक चैपल हिल में स्थित एक अपार्टमेंट में इन लोगों के शव मिले थे.

पुलिस जांच कर रही है कि ये हत्याएं किसी तरह की नफ़रत से प्रेरित तो नहीं हैं. ये तीनों ही मुसलमान हैं, ऐसे में सोशल मीडिया पर इस तरह की चर्चा हो रही है कि इनकी हत्याओं का कोई संबंध इनके धर्म से तो नहीं है.

अब तक चैपल हिल शूटिंग हैशटैग (#ChapelHillShooting) तीन लाख से भी ज़्यादा बार इस्तेमाल किया जा चुका है. ये हैशटैग अमरीका के अलावा ब्रिटेन, मिस्र, सऊदी अरब और मध्यपूर्व के कई दूसरे मुल्कों में ट्रेंड कर रहा है.

पार्किंग विवाद

इमेज कॉपीरइट reuters
Image caption क्रैग स्टीफ़न संदेह के आधार पर गिरफ़्तार.

सोशल मीडिया में बड़े मीडिया घरानों पर इस ख़बर को पर्याप्त जगह न देने के आरोप भी लग रहे हैं.

पुलिस का कहना है कि प्राथमिक जांच से ये संकेत मिले हैं कि हत्या का मक़सद दोनों पड़ोसियों के बीच चल रहा पार्किंग को लेकर विवाद था.

इस बारे में पूछताछ चल रही है और हिक्स उसमें पूरा सहयोग दे रहे हैं. पूरी जांच के बाद जानकारी दी जाएगी.

इन लोगों पर गोलियां चलाने का कारण पुलिस अभी नहीं बता पा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार