काला धन मामले पर एचएसबीसी की माफ़ी

  • 15 फरवरी 2015
एचएसबीसी का स्विट्ज़रलैंड स्थित प्राइवेट बैंक इमेज कॉपीरइट REUTERS

एचएसबीसी बैंक ने इन आरोपों के सामने आने के बाद माफ़ी मांगी है कि उसने अपने कई ग्राहकों को टैक्स चोरी में मदद की.

बैंक ने ब्रिटेन के कई अख़बारों में पूरे पन्ने का इश्तेहार देकर माफ़ी मांगी है. टैक्स चोरी में मदद के आरोप एचएसबीसी की स्विट्ज़रलैंड स्थित प्राइवेट बैंक पर लगे.

इस विज्ञापन में बैंक के मुख्य कार्यकारी स्टुअर्ट गुलिवर के हस्ताक्षर वाला एक खुला पत्र जारी किया गया है, जिसमें कहा गया है कि ताज़ा घटना ''एक दुखदायी अनुभव था''.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption एचएसबीसी के मुख्य कार्यकारी स्टुअर्ट गुलिवर

बैंक के गोपनीय आंकड़ों को उजागर करने वाले एरवे फ़ालचनी का कहना है कि ब्रिटेन की सरकार को इस स्कैंडल की जानकारी 2010 में ही होनी चाहिए थी.

जांच में जुटे अधिकारी

ब्रितानी संसद की वित्तीय मामलों की समिति इन दावों की जांच करेगी.

राजस्व और सीमा शुल्क विभाग ने इस हफ़्ते एचएसबीसी के स्विस टैक्स खातों की व्यापक जांच को शुरू करने के लिए पुलिस और व्यापक धोखबाज़ी जांच संबंधी ऑफ़िस के अधिकारियों से मुलाक़ात की.

ब्रिटेन के सांसदों ने टैक्स अधिकारियों पर इस मसले को सुलझा न पाने के आरोप लगाए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार