इराक़ः 'आईएस ने 45 लोगों को ज़िंदा जलाया'

  • 17 फरवरी 2015
इस्लामिक स्टेट के लड़ाके इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक़ में अल-बग़दादी कस्बे के पुलिस प्रमुख ने कहा है कि इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों ने कस्बे में 45 लोगों को ज़िंदा जला दिया है.

मरने वाले लोग कौन थे और इन्हें क्यों मारा गया, ये अब तक स्पष्ट नहीं हुआ है. हालांकि कर्नल क़ासिम अल-ओबेदी का कहना है कि मरने वालों में शायद कई सुरक्षाकर्मी थे.

कर्नल ओबेदी ने कहा कि सुरक्षा बलों और स्थानीय अधिकारियों के परिवार जिस परिसर में रहते थे, उसपर हमला हुआ है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय और सरकार से मदद की गुहार लगाई है.

आईएस का कब्ज़ा

आईएस के लड़ाकों ने पिछले हफ़्ते ही अल-बग़दादी के ज़्यादातर हिस्से पर क़ब्ज़ा किया है. यह कस्बा अल-असद में अमरीकी सैन्य बलों के आधार शिविर से महज़ आठ किलोमीटर दूर है.

पिछले हफ्ते आईएस के कब्ज़े में आने से पहले अल बग़दादी अनबार प्रांत के उन चंद कस्बों में से था जहाँ इराक़ सरकार का नियंत्रण था.

इस इलाक़े में संचार की लचर व्यवस्था और लड़ाई की वजह से ख़बरों की पुष्टि करने में दिक्कत होती है.

इस महीने की शुरुआत में आईएस ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें चरमपंथियों को जॉर्डन वायु सेना के एक पायलट को ज़िंदा जलाते हुए दिखाया गया था.

पिछले दिसम्बर में सीरिया में इस पायलट का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

(यदि आप बीबीसी हिन्दी का एंड्रॉएड ऐप देखना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें. सोशल मीडिया जैसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी आप हमें फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार