ब्रिटेन: ख़ुदकुशी करने में मर्द आगे

  • 22 फरवरी 2015
पुरुषों में आत्महत्या की प्रवृत्ति बढ़ी है इमेज कॉपीरइट thinkstock

ब्रिटेन में अात्महत्या करने वालों में पुरुषों का अनुपात वर्ष 2013 में पूरे दशक में सबसे ज़्यादा था. इस साल आत्महत्या करने वालों में 78 फ़ीसदी पुरुष थे.

नेशनल स्टैटिस्टिक्स ऑफ़िस के आंकड़ों के अनुसार, पिछले एक दशक में पुरुषों के आत्महत्या करने के मामलों में ज़बरदस्त तेज़ी आई है. इसके मुताबिक़, वर्ष 2013 में एक लाख मरने वाले पुरुषों में 19 ने ख़ुदकुशी की थी. पंद्रह वर्ष की उम्र में आत्महत्या करने वालों की तादाद चार फ़ीसदी बढ़ी है.

आत्महत्या के मामलों में सामान्य तौर पर कमी आई है. लेकिन ऐसा इसलिए कि वर्ष 2007 से महिलाओं की ख़ुदकुशी के आंकड़े लगभग स्थिर हैं जबकि पुरुषों की आत्महत्या के मामले तेज़ी से बढ़े है. 2013 में 78% मामले पुरुषों की आत्महत्या के थे.

आत्महत्या की अहम वजह मंदी

नेशनल स्टेटिस्टिक्स ऑफ़िस का यह शोध बताता है कि 45 से 59 वर्ष के पुरुषों में आत्महत्या की प्रवृति अधिक होती है.

शोध में यह भी कहा गया कि यूरोप में आई आर्थिक मंदी पुरुषों में बढ़ती आत्महत्या का एक अहम कारण है. जिन क्षेत्रों में बारोज़गारी बढ़ी उन क्षेत्रों में आत्महत्या की दर भी बढ़ी है.

दुखद और भयानक

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

मानसिक स्वास्थ्य संस्था 'सेन' की प्रमुख मार्जरी वालेस ने इस तथ्य पर हैरानी जताई. उन्होंने कहा कि ये भयानक और दुखद बात है कि अपने जीवन के मुख्य दौर में पुरुष इतने अधिक कुंठित और निराश महसूस करते हैं कि आत्महत्या कर बैठते हैं.

उन्होंने कहा कि उनकी संस्था का पहला सरोकार ये है कि किस तरह ख़ुदकुशी की घटनाओं को रोका जाए. इसके लिए वे उन इलाकों पर ध्यान दे रहे हैं जहां बेरोज़गारी और ग़रीबी बढ़ी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार