'क़ुरान जलाने वाली औरत' के मामले में जांच

अफ़ग़ानिस्तान इमेज कॉपीरइट EPA

अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी ने उस महिला की हत्या के जांच के आदेश दिए हैं जिसपर मस्जिद में इस्लाम की पवित्र किताब क़ुरान की प्रतियां जलाने का आरोप था.

मामला काबुल का है जहां महिला को मस्जिद से बाहर खींच लाई भीड़ ने उसे पीट पीटकर मार डाला फिर आग के हवाले कर दिया.

उसके परिवार का कहना है कि महिला लंबे समय से मानसिक बीमारी से जूझ रही थी.

इस मामले में सात लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

राष्ट्रपति ग़नी ने बयान जारी कर कहा है कि किसी को भी न्याय प्रक्रिया को अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है.

लोगों पर ईश निंदा के नाम पर लोगों पर पाकिस्तान में तो अक्सर हमले होते रहते हैं लेकिन अफ़ग़ानिस्तान में ऐसे मामले सामने नहीं आए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार