बिक रही है टीपू सुल्तान की तोप और बंदूक

टीपू सुल्तान इमेज कॉपीरइट Other

टीपू सुल्तान मैसूर के आखिरी राजा थे और उन्हें 'मैसूर का शेर' भी कहा जाता था.

ब्रिटेन में टीपू के हथियारों के संग्रह को ऑक्शन हाउस 'बोनहाम्स' 21 अप्रैल से नीलाम करने जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट Other

इस ऑक्शन में शामिल किए गए टीपू सुल्तान के हथियारों की अनुमानित कीमत एक मिलियन पाउंड बताई जा रही है.

बोनहाम्स न्यू बॉन्ड स्ट्रीट पर आयोजित की जाने वाली इस नीलामी में टीपू के असलहे देखे जा सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

इनमें रत्न जड़ित मूठ वाली तलवारें, नक्काशीदार तरकश, खूबसूरत लोहे के टोप, बंदूकें, निशानेबाज़ी में काम आने वाली बंदूकें, पिस्टल, कांसे की तोपे भी हैं.

टीपू के सभी हथियार अपने आप में कारीगरी का बेहतरीन उदाहरण कहे जा सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

ऑक्शन हाउस बोनहाम्स के मुताबिक 17 बोर की टीपू की दोनाली की कीमत एक लाख से डेढ़ लाख पाउंड के करीब आंकी गई है.

इमेज कॉपीरइट Other

नीलामी में कांसे के तोप की कीमत 40 से 60 हज़ार पाउंड के बीच और टीपू के दुर्लभ कवच पर 15 हज़ार से 20 हज़ार पाउंड के करीब बोली लगने की उम्मीद की जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Other

टीपू का निजी पहचान चिह्न बाघ था. युद्ध में काम आने वाले उनके हथियारों या औजारों पर बाघ के निशान देखे जा सकते हैं.

शायद यही वजह रही होगी कि उन्हें 'मैसूर का शेर' भी कहा जाता था.

इमेज कॉपीरइट Other

कभी टीपू ने खुद कहा था, "मैं सारी उम्र मेमने की तरह जीने की बजाय एक दिन शेर की तरह जीना पसंद करूंगा."

इमेज कॉपीरइट Other

ब्रितानी ईस्ट इंडिया कंपनी से टीपू का संघर्ष 1799 में उनकी मृत्यु तक चलता रहा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार