दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला का निधन

  • 1 अप्रैल 2015
मिसाओ ओकावा इमेज कॉपीरइट Getty

दुनिया की सबसे उम्रदराज जीवित महिला जापान की मिसाओ ओकावा का बुधवार को हृदय गति रुक जाने से निधन हो गया. वे 117 साल की थीं.

उनका निधन ओसाका के एक नर्सिंग होम में हुआ. उनका जन्म पांच मार्च 1898 को ओसाका में हुआ था.

वो अपने पीछे दो बेटियां और एक बेटा, चार पोते-पोतियां और छह पड़पोते-पोतियां छोड़ गई हैं.

जीवित इंसान

इमेज कॉपीरइट Getty

दुनिया के सबसे उम्रदराज जीवित इंसान के रूप में उनकी पहचान 2013 में हुई थी.

मिसाओ ओकावा ने पिछले महीने ही अपना जन्मदिन मनाया था. इस मौके पर उन्होंने कहा था कि 117 साल बहुत लंबा वक़्त नहीं लगता है. उनके जन्मदिन समारोह का प्रसारण जापान के राष्ट्रीय टीवी चैनल पर हुआ था.

उन्होंने कहा था कि उनकी लंबी उम्र का राज़ रात में कम से कम आठ घंटे की अच्छी नींद और उनका मनपंसद सूसी खाना है.

लंबा जीवन

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ओकावा ने जापान के चार राजाओं, ब्रिटेन के छह राजाओं और 20 अमरीकी राष्ट्रपतियों का कार्यकाल देखा.

ओकावा का जन्म जापान की पारंपरिक पोशाक किमोनो बनाने वाले एक परिवार में हुआ था. उनकी शादी यूकिओ के साथ 1919 में हुई थी. उनके पति का 1931 में निधन हो गया था.

अपने जीवन काल में ओकावा ने जापान के चार राजाओं, ब्रिटेन के छह राजाओं और 20 अमरीकी राष्ट्रपतियों का कार्यकाल देखा.

गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड के मुताबिक़ सबसे अधिक समय तक ज़िंदा रहने का रिकॉर्ड फ्रांस के जेम्स कैलमेंट के नाम है, जो 122 साल और 164 दिन तक ज़िंदा रहीं. उनका निधन अगस्त 1997 में हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार