कीनिया में चरमपंथी हमला, 147 की मौत

  • 3 अप्रैल 2015
इमेज कॉपीरइट epa

कीनिया के गृह मंत्रालय का कहना है कि देश के पूर्वी हिस्से में स्थित एक विश्वविद्यालय परिसर में हुए हमले में अब तक 147 लोग मारे गए हैं.

ये हमला गरिसा शहर में हुआ जब गुरुवार तड़के चरमपंथी संगठन अल शबाब के बंदूकधारी विश्वविद्यालय परिसर में घुस आए और उन्होंने छात्रों को बंधक बना लिया.

चश्मदीदों का कहना है कि चरमपंथियों ने ईसाई छात्रों को अलग खड़ा कर गोलियों का निशाना बनाया. सुरक्षा बलों ने 500 छात्रों को बचा लिया गया, जिनमें से 79 गंभीर रूप से घायल हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
इमेज कॉपीरइट AP

कीनिया की सरकार का कहना है कि सुरक्षा बलों का अभियान अब ख़त्म हो चुका है और सभी चार हमलावर मारे गए हैं.

गरिसा शहर और उसके आसपास के इलाकों में रात का कर्फ्यू लगा.

निंदा

इमेज कॉपीरइट AP

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून ने इस हमले की निंदा की और इसे 'आतंकवादी' हमला बताया है. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र आतंकवाद और चरमपंथी हिंसा से निपटने के बारे में कीनिया को हर तरह की मदद देने को तैयार है.

अमरीका का कहना है कि वो अल-शबाब से निपटने के लिए कीनिया को हर तरह की मदद देगा.

कीनिया के राष्ट्रपति उहुरु केन्यात्ता ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों से संवेदना जताई है और सुरक्षा बलों की तत्काल भर्तियां और ट्रेनिंग का आदेश दिया है.

उन्होंने कहा, "सुरक्षा बलों की कमी के कारण हमें ये नुकसान उठाना पड़ा है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)