जहां कर्मचारी से लेकर कलाकार सभी बौने हैं

  • 14 अप्रैल 2015
किंगडम आफ़ लिटिल पीपुल इमेज कॉपीरइट Other

चीन में एक ऐसा पार्क बनाया गया है जहां केवल बौने लोग ही रहते हैं.

‘किंगडम ऑफ़ लिटिल पीपुल’ नामक का यह थीम पार्क पर्यटकों के लिए खास आकर्षण बना हुआ है.

बौने लोगों को रोज़गार मुहैया कराने के लिए इसे 2009 में बनाया गया.

चीन में अंधविश्वास के कारण ऐसे लोगों को आम तौर पर अलग थलग रहने पर मजबूर कर दिया जाता है.

हालांकि पार्क के इस विचार की कुछ लोगों ने यह कहते हुए आलोचना की है कि इसके कर्मचारियों को सामाज से अलग किया जा रहा है.

पार्क में अलग राज

इमेज कॉपीरइट Other

पार्क में गार्ड मध्ययुगीन पोशाक और प्लास्टिक के कवच में तैनात किए गए हैं.

पार्क में फ़ायर सर्विस, पुलिस बल, संसद और लोकतांत्रिक रूप से चुना हुआ शासक है. जो डांस या करतब नहीं दिखा सकते उन्हें सुरक्षा, हस्तशिल्प, कैटरिंग या साफ सफाई की नौकरी दे दी जाती है.

पड़ोसी शहर कुनमिंग से यह पार्क ज़्यादा व्यवस्थित दिखता है. कुनमिंग शहर के हालिया विकास की तुलना में उसकी बुनियादी सुविधाएं बहुत कम हैं.

यहां कलाकारों की एक परेड होती है, जिसमें कलाकार राजा के अगल बगल में चलते हैं.

यहां उन्हीं को रहने की इजाज़त है, जिनकी लंबाई एक निश्चित पैमाने से कम है.

यहां आने वाले पर्यटकों में अधिकांश चीनी लोग होते हैं, जो कलाकारों की तस्वीरें लेते हैं और उनका उत्साह बढ़ाते हैं.

सुविधा

इमेज कॉपीरइट Other

एक कलाकार वेट लिफ़्टिंग शो में अपने से भी बड़ा भार उठाता है. इस शो में भारी भीड़ जुटती है.

यहां रहने वाले लोग निश्चित तौर पर काफ़ी खुश और संतुष्ट दिखे. मुझे याद है कि चीन में अधिकांश जगहों पर इन लोगों को अपने जैसे लोग नहीं मिलते हैं. यहां उन्हें भाषा सिखाई जाती है, फिटिंग के कपड़े दिए जाते हैं और उचित ठीक ठाक तनख्वाह मिलती है.

मैं एक प्रजेंटर शिआओ शिआओ से मिला. उनके नाम का मतलब है छोटा छोटा. उनका यहां एक ब्वॉयफ़्रेंड है, जिसके साथ वो खुश हैं.

वो बताती हैं कि यहां के 200 निवासियों में कुछ चले गए क्योंकि उन्हें घर की याद सता रही थी.

वो बताती हैं कि पहले एक बार में वो गाती थीं, लेकिन वहां लोग उन पर ड्रिंक्स फ़ेंकते थे.

शादियां

इमेज कॉपीरइट Other

यहां लोग शालीनता से तारीफ़ करते हैं और फूल फेंकते हैं.

एक अन्य महिला ने बताया कि धातुओं को गलाने वाली एक फ़ैक्ट्री की ख़तरनाक़ नौकरी छोड़कर वो यहां आईं.

ऐसा लगता है कि चीन में बौने लोगों के लिए रोज़गार के कम ही अवसर हैं.

इन लोगों बाहर जो तंज और आक्रामकता सही है वो यहां नहीं है.

जो लोग यहां रहते हैं, उनके लिए यहां रहने की एक बड़ी वजह प्यार का आकर्षण है. बाहर ऐसे लोगों को साथी पाने के लिए काफ़ी संघर्ष करना पड़ता है, लेकिन यहां कई शादियां हुई हैं और सभी खुश हैं.

यहां घरों में ताले नहीं लगते क्योंकि मुझे बताया गया कि यहां अपराध नहीं होते. शादी से जुड़े या अन्य कोई विवाद एक चुनी हुई समिति हल करती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार