'देखी गईं' अगवा नाइजीरियाई लड़कियां

इमेज कॉपीरइट Reuters

नाइजीरिया में पिछले साल अग़वा की गई लड़कियों में से 50 को तीन हफ़्ते पहले जीवित देखा गया था. कुछ महिलाओं ने बीबीसी को ये जानकारी दी है.

एक महिला ने इन लड़कियों को नाइजीरिया के पूर्वोत्तर शहर ग्वोज़ा में देखा था. ये बात बोको हराम के चरमपंथियों को सैन्य कार्रवाई में इस इलाके से बाहर किए जाने से पहले की है.

चरमपंथी गुट बोको हराम ने एक साल पहले नाइजीरिया के चिबोक से 219 लड़कियों का अपहरण कर लिया था जिसकी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निंदा हुई थी.

अमरीका, चीन और अन्य देशों ने वादा किया था कि वो लड़कियों को छुड़ाने में मदद करेंगे.

हालांकि इसके बाद इन लड़कियों का कुछ पता नहीं चला. ये लड़कियां कहां है, इस बारे में भी कोई जानकारी नहीं है.

बोको हराम का कहना है कि इन लड़कियों को मुसलमान बना दिया गया है और उनकी शादियां कर दी गई हैं. इस बयान से इन चिंताओं को बल मिलता है कि लड़कियों को यौन-ग़ुलाम के तौर पर रखा जा रहा है.

'चरमपंथी भी थे साथ'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption बोको हराम का कहना है कि अग़वा किए जाने के बाद से लड़कियां इस्लामी शिक्षा पा रही हैं

अब ग्वोज़ा में बोको हराम के राज में रहने वाली एक नाइजीरियाई महिला ने इनमें से कुछ लड़कियों को देखने की बात कही है.

उन्होंने बीबीसी को बताया कि उन्होंने लड़कियों को इस्लामी पोशाक में देखा था और उनके साथ चरमपंथी भी मौजूद थे.

अपना नाम गोपनीय रखने की शर्त पर इस महिला ने बताया, "वो कह रहे थे कि ये चिबोक की लड़कियां हैं जिन्हें एक बड़े मकान में रखा गया है."

उन्होंने कहा, "संयोग की बात थी कि हम भी उसी सड़क पर जा रहे थे जिस पर वो जा रही थीं."

तीन अन्य महिलाओं ने भी बीबीसी से इन लड़कियों को देखने की बात कही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार