'यहूदियों के क़त्ल' वाला वो विज्ञापन..

  • 22 अप्रैल 2015
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

एक अमरीकी जज ने न्यूयार्क सिटी बसों को उस विज्ञापन को दिखाने का आदेश दिया है जिसमें मुसलमानों को यहूदियों का क़त्ल करते हुए दिखाया गया है.

न्यूयार्क मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट ऑथॉरिटी ने विज्ञापन का ये कहते हुए विरोध किया था कि इससे आतंकवाद और हिंसा को बढ़ावा मिलेगा.

लेकिन जज जॉन कोएट्ल का कहना था कि विज्ञापन को दिखाए जाने का मामला अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता से जुड़ा है.

इस तरह के विज्ञापन शिकागो और सैन फ्रांसिस्को के सार्वजनिक यातायात के साधनों में पहले से ही दिखाए जा रहे हैं.

'यहूदियों का क़त्ल है इबादत'

विज्ञापन में स्कार्फ़ से चेहरा छुपाए ख़तरनाक शक़्ल के एक व्यक्ति को दिखाया गया है. उसके पास हमास से जुड़ा बताया जाने वाले एक म्यूज़िक वीडियो का एक हिस्सा दिखाया गया है जिसमें लिखा है – ‘यहूदियों की हत्या इबादत है जो हमें ख़ुदा के क़रीब ले जाता है’.

इमेज कॉपीरइट Getty

विज्ञापन में कहा गया है: ये उनका जिहाद है. आपका क्या है?

न्यायाधीश का कहना था कि वो सुरक्षा की चिंताओं से अवगत हैं लेकिन एमटीए ने न्यूयार्क वासियों की सहनशीलता को कम आंका है. साथ ही विज्ञापन के प्रभाव को भी वह बढ़ा चढ़ाकर देख रहा है.

इस विज्ञापन को बनाने का ख़र्च अमरीकन फ्रीडम डिफेंस इनिशिएटिव ने दिया है. इस संस्था को विवादास्पद ब्लॉगर और आंदोलनकारी पामेला गेलर चलाती है और संस्था का शुमार मुस्लिम विरोधी के तौर पर किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार