भूमध्यसागर संकट: यूरोप तीन गुना बढ़ाएगा फ़ंडिंग

  • 24 अप्रैल 2015
इमेज कॉपीरइट AFP

ब्रसेल्स में हुई बातचीत के बाद यूरोपीय नेताओं ने कहा है कि वो भूमध्यसागर में प्रवासियों को ला रही नावों में लोगों को बचाने और ढूँढने के लिए फंडिंग तीन गुना करेंगे.

अधिकारियों ने बताया कि यूरोपीय संघ इस पर भी विचार करेगा कि कैसे तस्करों की नावें नष्ट की जाएँ और ग़ैर यूरोपीय देशों में इमिग्रेशन अफसर भेजे जाएं.

कई यूरोपीय देशों ने वादा किया है कि वे अधिक संसाधन और जहाज़ मुहैया कराएँगे.

रविवार को लीबिया से आ रही नाव में 750 लोगों की मौत हो गई थी. माल्टा में 24 मृतकों का अंतिम संस्कार किया गया.

समुद्री गश्त

इमेज कॉपीरइट Reuters

पिछले कुछ महीनों में मध्य पूर्व और अफ़्रीका में गरीबी और युद्ध से भागकर आने वाले लोगों की संख्या तेज़ी से बढ़ी है.

माना जा रहा है कि 35000 से ज़्यादा लोग अफ़्रीका से यूरोप आए हैं और करीब 1750 लोगों की इस यात्रा के दौरान मौत हुई है.

ब्रिटेन इससे पहले समुद्री गश्त कम करने की वकालत करता रहा है. अब उसने कहा है कि वो एक हेलिकॉप्टर कैरियर, दो नावें और तीन हेलिकॉप्टर देगा. जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम ने भी जहाज़ देने की पेशकश की है.

मानवाधिकार गुटों ने सम्मेलन की आलोचना की है. उनका कहना है कि ईयू के नेतृत्व में चलनी वाली पैट्रोल नावों का दायरा नहीं बढ़ाया गया है. ऐसा करने से ये दायरा लीबियाई तट तक पहुँच जाता.