बाल्टीमोर: छह पुलिसवालों पर मुक़दमा

  • 2 मई 2015
इमेज कॉपीरइट Getty

अमरीका के बाल्टीमोर शहर में एक काले आदमी की पुलिस हिरासत में मौत के मामले में छह पुलिस वालों पर आपराधिक मुक़दमा चलाने का फ़ैसला किया है.

सरकारी अभियोजक मर्लिन मोसबी ने कहा कि 25 साल के इस काले आदमी की गिरफ़्तारी ग़ैर क़ानूनी थी और इसकी मौत को ह्त्या मान कर मुक़दमा चलाया जाएगा.

शहर में इस घटना के बाद से प्रदर्शन कर रहे लोगों ने इस फ़ैसले का स्वागत किया.

फ़्रेडी ग्रे की मौत के बाद जांच में सामने आया था कि पुलिस हिरासत में रहते हुए उन्हें रीढ़ की हड्डी पर घातक चोटें लगीं थी.

ग्रे की मौत के बाद हिंसक प्रदर्शन शुरू हो गए थे.

इमेज कॉपीरइट Getty

ग्रे की मौत के बाद उनके हिरासत में शामिल छह पुलिस अधिकारीयों को सस्पेंड कर दिया गया था.

छह में सबसे गंभीर आरोप पुलिस वैन के चालक 45 साल के सीज़र गुडसन पर लगाए हैं. अगर ये आरोप साबित ही जाते हैं तो उन्हें 30 साल तक की सज़ा सुनाई जा सकती है.

अन्य पुलिस वालों पर ग़ैर इरादतन ह्त्या, हमला और काम में लापरवाही के आरोप हैं.

ग्रे की ह्त्या के बाद पुलिस ने आरोप लगाया था कि उनके पास धारदार हथियार था जबकि आरंभिक जांच में पता चला है कि उनके पास एक जेबी चाकू था जो गैरकानूनी नहीं था.

इस घटना के बाद अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि लोग ये जानना चाहते हैं की दरअसल सच्चाई क्या थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार