नेपाल में बीफ़: भारतीय मीडिया पर भड़का पाकिस्तान

  • 1 मई 2015
नेपाल पाकिस्तान रिलीफ टीम इमेज कॉपीरइट EPA

पाकिस्तान ने नेपाल के भूकंप पीड़ितों को भेजे गए खाने के पैकेटों में 'बीफ़' की मौजूदगी को लेकर उठे विवाद के लिए भारतीय मीडिया को क़ुसूरवार ठहराया है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा है कि भारतीय मीडिया 'बेवजह विवाद' खड़ा करने की कोशिश कर रहा है.

मीडिया में ये ख़बरें आई थीं कि पाकिस्तान की ओर से नेपाल भेजे गए खाने के पैकेट में बीफ़ है और इससे नेपाल में रहने वाले कुछ लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती हैं.

'पैकेट में दी जानकारी'

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने खाने के पैकेट में 'बीफ' की मौजूदगी से इनकार नहीं किया.

उन्होंने कहा, "तैयार खाने के पैकेट में पूरे दिन के भोजन की पहले से तैयार किट है, जिसमें बीस चीज़ें शामिल हैं. किट के अंदर के हर पैकेट पर डिश का नाम अंग्रेजी और उर्दू में साफ तौर पर लिखा है. ताकि लोग जो चाहें वो खाएं और बाकी को हटा दें. नेपाल में दोनों भाषाएं समझी जाती हैं."

उन्होंने कहा कि ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारतीय मीडिया एक मानवीय मिशन को भी नहीं बख्श रहा.

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने ये भी बताया कि नेपाली अधिकारियों को पाकिस्तान से भेजे गए खाने के तैयार पैकेट इस कदर प्रभावी लगे हैं कि उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर एक विमान भर के पैकेट भेजने की मांग की है.

6 हज़ार से ज्यादा मौत

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

शनिवार को आए भूकंप से नेपाल में अब तक 6 हज़ार दो सौ लोगों की मौत की पुष्टि की गई है.

भूकंप के असर से 13 हजा़र लोग घायल हुए हैं. मलबे में दबे दो लोगों को गुरुवार को ज़िंदा बाहर निकाला गया लेकिन और लोगों के ज़िंदा बाहर आने की उम्मीदें कम हो रही हैं.

अधिकारियों ने बताया कि तलाश, बचाव और राहत कार्यों में एक लाख से अधिक नेपाली बचावकर्मी लगाए गए हैं.

खराब मौसम की वजह से हेलीकॉप्टरों के प्रभावित क्षेत्रों तक पहुंचने में दिक्कतें आ सकती हैं. नेपाल की सरकार ने विदेशी सरकारों से और अधिक हेलीकॉप्टर भेजने की अपील की है. दुर्गम पहाड़ी इलाकों में राहत सामग्री भेजने और लोगों को निकालने के लिए हेलीकॉप्टर ही एकमात्र ज़रिया हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार