नेपालः लाखों बच्चे स्कूल में नहीं लौट पाएँगे

इमेज कॉपीरइट UNICEF

संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनिसेफ़ का कहना है कि यदि ज़रूरी कदम नहीं उठाए गए तो नेपाल में भूकंप के बाद लगभग 9.5 लाख बच्चे काफ़ी देर तक स्कूलों में लौट नहीं पाएँगे.

नेपाल में 12 दिन पहले आए खतरनाक भूकंप में कई स्कूल और लगभग 24,000 क्लासरूम तबाह हो गए थे.

नेपाल में पिछले महीने 7.5 की तीव्रता वाले विनाशकारी भूकंप में मरने वालों की संख्या 7,500 से ज़्यादा हो गई है.

दस में से 9 इमारतें क्षतिग्रस्त

इमेज कॉपीरइट UNICEF

बच्चों के लिए काम करने वाली संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनिसेफ़ के अनुसार भूकंप से बुरी तरह प्रभावित इलाकों में 10 में से 9 स्कूलों की इमारत को या तो भारी नुकसान पहुंचा है या वो ढह गई हैं.

यूनिसेफ़ के नेपाल प्रतिनिधि टोमू होज़ूमी के अनुसार, "भूकंप से पहले लगभग 10 लाख लोग स्कूल में भर्ती हुए थे लेकिन अब वो इमारत ढह जाने के कारण स्कूल में लौट ही नहीं पाएँगे."

ऐसे हालात में यूनिसेफ़ बच्चों की पढ़ाई के लिए एक वैकल्पिक व्यवस्था बनाने की कोशिश कर रहा है.

नेपाल में स्कूलों के खुलने की तारीख़ 15 मई तय की गई है. हालांकि उनमें से कई स्कूलों का इस्तेमाल अभी भी आपातकाल शिविरों के रूप में हो रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार