ज़रा देखिए लोग कैसा झंडा चाहते हैं

न्यूज़ीलैंड की सरकार अपने नए राष्ट्रीय ध्वज के लिए लोगों से राय ले रही है.

हालांकि अभी सरकार इस बात को लेकर निश्चिंत नहीं है कि वह झंडे का डिज़ाइन बदलेगी ही. फिर भी बड़ी तादाद में लोग अपने डिज़ाइन भेज रहे हैं.

देखिए सरकार को मिले कुछ चुनिंदा डिज़ाइन...

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption कई डिज़ाइन की थीम किवी है. ये एंट्री वाइकाटो से आकू ए ने भेजी है.
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ऑकलैंड के ही जेम्स ग्रे के इस डिज़ाइन का नाम है 'फ़ायर द लज़र्ड'. ग्रे कहते हैं, "लेज़र किरणें न्यूज़ीलैंड की ताक़तवर छवि का प्रतिनिधित्व करती हैं. मेरा डिज़ाइन इतना ताक़तवर है कि इस पर चर्चा तक नहीं की जानी चाहिए."
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption फ़िल प्लंकेट ने अपने इस डिज़ाइन को नाम दिया है ब्लू सी. उनका कहन है, "इसे सरल रखिए, सभी के पास ब्लू शीट होती है. एक शीट से बारह झंडे तो बन ही जाएंगे."
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption वेलिंगटन के लोगान वू ने अपनी एंट्री को नाम दिया है गेंस. वे कहते हैं, "उपनिवेश के दौर के बाद से न्यूज़ीलैंड काफ़ी आगे बढ़ चुका है."
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ऑकलैंड के जेम्स ऑयरलैंड ने इस डिज़ाइन को नाम दिया है 'गुड फ़्लैग.'
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ऑकलैंड के डेवी ली ने अपने इस डिज़ाइन को नाम दिया है हैप्पी किवी. वे कहते हैं, "क्योंकि ये दर्शाता है कि हम ख़ुश और अहिंसक किवी का देश हैं."
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption फिल प्लंकेट ने लाल रंग भी सुझाया है. वे कहते हैं, "लाल मस्त हैं. झंडा जल्दी और आसानी से बनेगा. ड्रैगन और निंजा को भी यह पसंद है."
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption वाइकाटो से डेविड एस्टिल ने अपनी एंट्री को नाम दिया है 'टे पेपे'. वे कहते हैं ये, "जब हम इस उड़ न सकने वाली दुर्लभ चिड़िया किवी को देखते हैं तो हमें जो अहसास होता है वो न्यूज़ीलैंड की अपने बुज़ुर्गों, अपनी भूमि और संस्कृति से ग़हरे रिश्ते का शानदार उदाहरण है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और टविटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार