आईएस ने पल्माइरा के संग्रहालय पर ताला जड़ा

  • 24 मई 2015
इमेज कॉपीरइट n

इराक़ी अधिकारियों ने कहा है कि चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने सीरिया में ऐतिहासिक शहर पल्माइरा के संग्रहालय को बंद कर दिया है और उसके दरवाज़े के बाहर अपने गार्ड तैनात कर दिए हैं.

प्राचीन वस्तुओं से जुड़े मामलों के प्रमुख मामून अब्दुलकरीम ने कहा कि आईएस ने प्लास्टर से बनी कुछ नई मूर्तियों को नष्ट कर दिया है.

साथ ही उन्होंने संग्राहलय के सामने स्थित एक क़िले के ऊपर अपना झंडा भी फहरा दिया है.

हालांकि उन्होंने कहा कि संग्रहालय में मौजूद अधिकतर प्राचीन वस्तुओं को पहले ही सीरिया की राजधानी दमिश्क भेजा जा चुका है, लेकिन कुछ अभी भी संग्राहलय में मौजूद हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

आईएस इससे पहले भी कई प्राचीन धरोहरों को नष्ट कर चुका है.

'झूठी मूर्तियां'

आईएस के अनुसार 'झूठी मूर्तियों' के ख़िलाफ़ यह उसकी जंग है. पल्माइरा के नज़दीक विश्व विरासत स्थल पर आईएस के कब्ज़े के बाद से यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चिंता का विषय बन गया है.

मामून अब्दुल करीम ने बताया, ''संग्रहालय में तराशे हुए बड़े-बड़े पत्थर हैं जिनका वज़न तीन से चार टन है. हम उन्हें वहां से नहीं हटा पाएं हैं. वही मेरे लिए फिलहाल चिंता का विषय है.''

इमेज कॉपीरइट na
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

आईएस ने इराक में कई धरोहरों को नष्ट किया है जिसमें प्राचीन निमरूद शहर भी शामिल है.

साथ ही उसने मोसुल की लाइब्रेरी में भी आग लगा दी जिसमें क़रीब आठ हज़ार प्राचीन पांडुलिपियां रखी गई थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार