पलायन करने वाले बदनामी करा रहे हैं: हसीना

म्यांमार से पलायन करने वाले लोग इमेज कॉपीरइट d

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा है कि अवैध रूप से बांग्लादेश छोड़ने वाले प्रवासी देश की छवि ख़राब कर रहे हैं.

हसीना ने कहा कि देश छोड़ने की कोशिश ने उन्हें 'मानसिक रूप से बीमार' बना दिया है.

ऐसे लोगों को लालची बताते हुए उन्होंने उन बिचौलियों को भी सज़ा देने की मांग की जो उनकी यात्रा का इंतज़ाम करते हैं.

इमेज कॉपीरइट focus bangla
Image caption शेख हसीना का कहना है कि प्रवासियों के पास पर्याप्त काम है फिर भी वे देश छोड़ रहे हैं.

उन्होंने कहा, ''वे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश की छवि को ख़राब कर रहे हैं और अपनी ज़िंदगी को जोखिम में डाल रहे हैं. उनके पास पर्याप्त काम भी है लेकिन वे दुखद तरीके से देश छोड़ रहे हैं.''

बांग्लादेश और म्यांमार से बड़ी तादाद में लोगों का पलायन देखा जा रहा है जो नाव से बंगाल की खाड़ी के रास्ते दक्षिण में थाईलैंड, इंडोनेशिया और मलेशिया की ओर जा रहे हैं.

माना जाता है कि हज़ारों लोग नावों में फंसे हुए हैं. इनमें बांग्लादेश के ग़रीब प्रवासी और म्यांमार के रोहिंग्या मुसलमान हैं जिन्हें वहां 'उत्पीड़न' का सामना करना पड़ रहा है.

अधिकारियों ने बताया कि रविवार को मलेशिया में कई सामूहिक कब्रों में इन प्रवासियों के शव थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार