'केएफसी में 8 टांगों वाला चिकन'

चीन में केएफसी आउटलेट इमेज कॉपीरइट Reuters

फास्ट फूड चेन केएफसी ने चीन की तीन फर्मों के ख़िलाफ मुक़दमा दायर किया है.

केएफसी के मुताबिक ये व्यावसायिक संस्थान उसके यहां मिलने वाले खाने को लेकर सोशल मीडिया के ज़रिए झूठी अफवाह फैला रहे हैं.

उनमें से एक अफ़वाह ये है कि केएफसी आठ पैरों वाले चिकन का इस्तेमाल करती है.

1.54 करोड़ मांगा मुआवज़ा

इस मामले में शंघाई की एक अदालत में मुक़दमा दायर किया गया है.

केएफसी ने 15 लाख युआन यानी करीब 1 करोड़ 54 लाख रुपए के मुआवज़े और माफ़ी की मांग की है.

सोशल मीडिया की एक पोस्ट में कहा गया है कि कंपनी अनुवांशिक तौर पर उन्नत चिकन का इस्तेमाल करती है, जिनके छह पंख और आठ पैर होते हैं.

'वीचैट का इस्तेमाल'

इमेज कॉपीरइट AFP

केएफसी के मुताबिक वीचैट एप के ज़रिए अफ़वाह फैलाई गई हैं.

कंपनी ने एक बयान में बताया है कि कम से कम चार हजार बार अफ़वाह को पोस्ट किया गया है.

केएफसी के चीन के प्रेसिडेंट छू त्सुइरोंग ने कहा, "इससे न सिर्फ उपभोक्ता भ्रमित हो रहे हैं बल्कि ब्रांड को भी नुक़सान हो रहा है."

केएफसी का कहना है कि शांगशी वेलुकुआंग टेक्नॉलॉजी कंपनी लिमिटेड, ताइयुआन जीरो प्वाइंट टेक्नॉलॉजी कंपनी और यिन्गचेनान्झी सक्सेस एंड क्लचरल कम्यूनिकेशन ने सबसे पहले अफवाह वाले पोस्ट जारी किए. इन कंपनियों ने कोर्ट में की गई शिकायत पर प्रतिक्रिया नहीं दी है.

साल 2014 के आख़िर तक केएफसी की चीन में 4 हजार 828 शाखा थीं. कंपनी हर साल सैंकड़ों नई शाखाएं शुरू कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार