'आईएस ने 10 तालिबान चरमपंथियों के सिर कलम किए'

इमेज कॉपीरइट

अफ़ग़ानिस्तान की सेना का कहना है कि इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों ने कम से कम दस तालिबान चरमपंथियों के सिर कलम कर दिए हैं.

माना जा रहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान चरमपंथियों के इस्लामिक स्टेट के हाथों मारे जाने की यह पहली घटना है.

अफगान ख़ुफिया विभाग के एक अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि देश के पूर्वी क्षेत्रों में पिछले कई हफ्तों से सैकड़ों तालिबान इस्लामिक स्टेट के जुड़े चरमपंथियों के बीच झड़पें जारी हैं.

काबुल में बीबीसी संवाददाता के अनुसार इस्लामिक स्टेट के हाथों तालिबान चरमपंथियों की मौत के बारे में तब पता चला जब बुधवार को अफगान सेना के 21 कोर की एक रिपोर्ट गलती से मीडिया को भेज दी गई.

इमेज कॉपीरइट

तालिबान के एक प्रवक्ता के अनुसार उनके समूह में शामिल तीन लड़ाके लड़ाई में मारे गए लेकिन उन्होंने इनकार किया कि देश में इस समय इस्लामिक स्टेट सक्रिय है.

इस साल जनवरी में इस्लामिक स्टेट ने कहा था कि उसने तालिबान के एक पूर्व प्रवक्ता हाफिज सईद खान को अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान के लिए अपना कमांडर नियुक्त किया है.

इससे पहले अप्रैल में जलालाबाद में हुए एक आत्मघाती बम विस्फोट में कम से कम 33 लोग मारे गए और 100 घायल हो गए थे.

इस घटना की जिम्मेदारी अफ़ग़ानिस्तान में इस्लामिक स्टेट की शाखा की ओर से स्वीकार की गई थी जबकि अफगान तालिबान ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा था कि इसके पीछे उनका हाथ नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार