लीबियाः हवाई हमले में शीर्ष इस्लामी चरमपंथी की मौत

बेलमुख्तार इमेज कॉपीरइट AFP

लीबिया में अमरीकी हवाई हमले में एक शीर्ष इस्लामी चरमपंथी मुख़्तार बेलमुख़्तार मारा गया है.

माना जाता है कि उसने दो साल पहले अल्जीरिया के एक गैस संयंत्र पर घातक हमले का आदेश दिया था.

उस हमले में क़रीब 800 लोगों को बंधक बना लिया गया था और 40 लोग मारे गए थे. मृतकों में ब्रितानियों समेत अधिकांश विदेशी थे.

लीबियाई सरकार ने कहा है कि मुख्तार बेलमुख्तार और कई अन्य लड़ाके पूर्वी शहर अजदाबिया में मारे गए. हालाँकि इससे पहले उसकी मौत की गई ग़लत रिपोर्टें भी आई हैं.

अमरीकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने इस बात की पुष्टि की है कि उसका निशाना बेलमुख्तार थे लेकिन उसने ये दावा नहीं किया है कि वो मारे गए हैं या नहीं.

अलग चरमपंथी संगठन बनाया

पेंटागन के प्रवक्ता स्टीव वारन ने कहा, "हम अभी इस अभियान के परिणामों का आकलन कर रहे हैं और उचित समय पर ज़्यादा जानकारी देंगे."

अल्जीरिया में जन्मे बेलमुख्तार 'अल क़ायदा इन द इस्लामिक मगरिब' में सक्रिय थे लेकिन बाद में उसने अपना अलग चरमपंथी संगठन बना लिया था.

साल 2013 में अल्जीरिया में अमेनास गैस संयंत्र पर हुए हमले के बाद वह सुर्खियों में आया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार