बाप-बेटी का खूबसूरत 'कारोबारी' रिश्ता

  • 22 जून 2015

जहां अब तक पिता-पुत्र की कंपनियों का ही चलन रहा है, बेटियां इसे बदल रही हैं. वे कारोबार को अपना करियर चुन रही हैं और परिवार की कंपनी में पिता के साथ कदमताल मिला कर काम कर रही हैं.

ऐसी ही कमाल की जोड़ी है पिता श्रीराम और बेटी स्मृति की. इनकी कंपनी ने ब्रिटेन के कारोबार जगत में मिसाल कायम की है.

'सुप्रीम क्रिएशन' ब्रिटेन की ऐसी सबसे बड़ी कंपनी है जो प्राकृतिक रेशे से रीयूजेबल शॉपिंग बैग बनाती है.

छह साल पहले जब स्मृति 22 साल की थीं, तब पिता की कंपनी से जुड़ीं. श्रीराम ने 16 साल पहले 'सुप्रीम क्रिएशन' की शुरुआत की थी.

'सुप्रीम क्रिएशन' ब्रिटेन के सुपरमार्केट असदा, टेस्को और सैन्बरी से लेकर नाइक जैसे दिग्गज अमरीकी स्पोर्ट्सवेयर कंपनी और टॉशॉप जैसे फैशन रिटेलर के लिए जूट, कैनवास और कॉटन बैग बनाती है.

बेटी के कंपनी ज्वाइन करने के बाद कंपनी ने दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की की.

चलन बदलती बेटियां

यह कंपनी पहले केवल साधारण रियूजेबल बैग्स बनाती थी. फिर स्मृति ने अपने फैशन आइडियाज़ इस्तेमाल कर इन बैग्स को लोकप्रिय बनाया.

फिर क्या था कंपनी का कारोबार तेज़ी से बढ़ने लगा. इसे देखते हुए पिछले साल स्मृति को मुख्य कार्यकारी अधिकारी बनाया गया.

सुप्रीम क्रिएशन्स अब दक्षिण भारत स्थित अपने कारखाने में हर साल लाखों की संख्या में बैग बनाती है.

इमेज कॉपीरइट

भारत के दक्षिणी हिस्से में स्थित इस कारखाने में 800 कर्मचारी हैं और ये दुनिया भर के लगभग 50,000 ग्राहकों को माल भेजती है.

यहां एक और बात मायने रखती है कि पिता-पुत्री की इन जोड़ियों में रिश्ते कहीं मीठे हैं तो कहीं चटपटे और कहीं एक-दूसरे के पूरक भी हैं.

आइए कुछ ऐसी ही पिता-पुत्री की और जोड़ियों से मिलें-

दोस्ती भी, टकराव भी

लंदन की ही पीटर इब्बेट्सन और गेम्मा गुईज पिता-पुत्री की ऐसी ही एक और जोड़ी है.

लेकिन स्मृति और श्रीराम के प्रोफेशन कारोबारी रिश्ते के उलट इनका कारोबारी रिश्ता कुछ खट्टा और कुछ मीठा है.

ये जोड़ी एक साथ प्रीमीडिया और जर्नोलिंक नाम की दो कंपनियां चलाती है.

प्रीमीडिया मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के लिए मीडिया प्रशिक्षण देने का काम करती है जबकि जर्नोलिंक एक पब्लिक रिलेशन कंपनी है.

31 साल की मिसेज गुईज ने पिता का कारोबार तीन साल पहले ज्वाइन किया था.

गुईज कहती हैं कि एक साथ दो कंपनियों को चलाना अपने आप में बड़ी बात है और ऐसे में कई बार टकराव और बहस के हालात पैदा हो जाते हैं.

वे कहती हैं, "हमने एक साथ सारे उतार चढ़ाव देखे हैं. एक तरफ हम अच्छे दोस्त हैं तो एक दूसरे के आलोचक भी हैं."

फिर उन्होंने कहा, "लेकिन सफलता और मजबूत संकल्प ने हमारे रिश्ते की महीन दरारों को हमेशा भरा है."

एक-दूसरे के पूरक

तीसरी जोड़ी पिता क्लेयर रेयनर और पुत्री मिस डिकेंसन की है.

डिकेंसन को फूड एलर्जी थी. उन्हें सोचा कि क्यों ने ऐसे केक और स्नैक्स तैयार किए जाएं जिसमें ग्लूटीन, डेयरी उत्पाद और अंडे न हों और उसमें केवल कुदरती चीजें और शुगर का इस्तेमाल हो.

फिर उन्होंने पिता पीटर डिकेंसन के साथ मिलकर डिजाइन2इट कंपनी शुरू की.

डिजाइन2इट ग्रेटर मैनचेस्टर में है और ऑनलाइन और फूड फेस्टिवल दोनों जगहों पर अपने उत्पाद बेचती है.

डिकेंसन कहती हैं "मैं डैडी गर्ल हूं. हम कई मायनों में मिलते जुलते हैं लेकिन हमारी ताकतें अलग अलग है."

आजकल डिजाइंड2इट हर महीने 1,000 उत्पाद बेचती है.

पिता क्लेयर रेयनर मानते हैं कि वे और उनकी बेटी दोनों एक दूसरे के पूरक हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार