अमरीकी चर्च पर हमला: संदिग्ध गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका में पुलिस ने बताया है कि साउथ कैरोलाइना के चर्च में हुई गोलीबारी के सिलसिले में 21 साल के एक व्यक्ति को गिरफ़्तार किया गया है.

रिपोर्टों के मुताबिक चार्ल्सटन में शूटिंग के करीब 13 घंटों बाद डिलैन नाम के इस व्यक्ति को हिरासत में लिया गया. इस गोलीबारी में नौ लोगों की मौत हो गई है.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गोलीबारी की घटना की भर्त्सना की है और कहा है कि दुनिया के किसी अन्य विकसित देश में इस तरह के घटनाएं बार-बार नहीं होतीं.

पुलिस ने इससे पहले इस गोरे संदिग्ध व्यक्ति का सीसीटीवी फुटेज जारी किया था.

साउथ कैरोलाइना में चार्ल्सटन पुलिस ने ट्वीट में उस संदिग्ध आदमी का हुलिया और कपड़ों का ब्यौरा देते हुए बताया था कि वह काले रंग की एक गाड़ी से भाग निकला था.

एमानुएल अफ़्रीकन मैथडिस्ट एपिस्कोपल चर्च में हुई गोलीबारी पर चार्ल्स्टन के पुलिस प्रमुख ग्रेगरी मलन ने कहा, " हम इसे नफ़रत की वजह से किया गया अपराध मान रहे हैं."

पादरी की मौत

इमेज कॉपीरइट Reuters

स्थानीय समय के मुताबिक रात नौ बजे जब गोलीबारी हुई तब चर्च में एक सभा चल रही थी.

चर्च की पादरी, राज्य की सेनेटर क्लेमेन्टा पिनकनी भी इस घटना में मारी गई हैं.

गोलीबारी के बाद आठ लोगों की मौत चर्च में हुई जबकि एक की मौत कुछ देर बाद हुई.

इमेज कॉपीरइट Getty

गोलीबारी में बची एक महिला ने स्थानीय मीडिया को बताया कि गोली चलाने वाले शख्स ने उससे कहा कि वह उसे घटना की जानकारी लोगों को देने के लिए ज़िंदा छोड़ रहा है.

नेशनल एसोसिएशन फॉर द एडवान्समेन्ट ऑफ कलर्ड पीपल के एक अधिकारी ने बताया की हमलावर गोलीबारी से पहले चर्च में बैठा था.

जेब बुश का दौरा रद्द

इमेज कॉपीरइट AP

रिपबलिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारी हासिल करने की रेस में शामिल जेब बुश ने गुरुवार को चार्ल्सटन में होने वाले अपने एक आयोजन को रद्द कर दिया है.

उनकी टीम ने घटना पर बयान जारी कर शोक जताया है.

चार्ल्सटन के मेयर जो रिली और साउथ कैरोलाइना की सेनेटर टिम स्कॉट ने भी शोक जताया है.

चार्ल्सटन शहर में शोक की लहर

इमेज कॉपीरइट Reuters

चर्च में हमले के बाद कई स्थानीय लोगों को चर्च के पास प्रार्थना करते देखा गया.

नॉर्थ चार्ल्सटन में दो महीने पहले एक गोरे पुलिसकर्मी ने अफ्रीकी मूल के अमरीकी नागरिक की हत्या कर दी थी जिसका बहुत विरोध हुआ था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

19वीं सदी में बना एमानुएल अफ़्रीकन मेथडिस्ट एपिस्कोपल चर्च अमरीका के सबसे पुराने चर्चों में से एक है.

इसके संस्थापकों में से एक - डेनमार्क वर्सी - 1822 में हुए विफल गुलाम विद्रोह के नेता थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार