'दिल से कांग्रेसी अरुण जेटली मेरा निशाना'

इमेज कॉपीरइट Other

ललित मोदी ने एक यूज़र के ट्वीट पर जवाबी ट्वीट करते हुए कहा है कि कांग्रेस और भाजपाई लेकिन दिल से कांग्रेसी अरुण जेटली मेरा निशाना हैं.

ललित मोदी ने अरुण जेटली से अपना फ़ोन रिकॉर्ड सार्वजनिक करने की माँग की है.

मोदी ने ट्वीट किया है, "अरुण जेटली को स्वेच्छा से अपना फ़ोन रिकॉर्ड मीडिया में सार्वजनिक कर देना चाहिए. उनके फ़ोन पर आने और जाने वाली कालों में एक मजेदार पैटर्न दिखेगा."

भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सुषमा स्वराज के ललित मोदी की मदद मुद्दे पर कहा था कि सुषमा पर लगे आरोप आधारहीन हैं.

हालांकि जेटली ने ये भी कहा था कि ललित मोदी पर भारत में कथित वित्तीय हेराफेरी के कई मामलों में जाँच चल रही है और उनके ख़िलाफ़ लाइट ब्लू नोटिस जारी है.

सुषमा की नीयत अच्छी थी: जेटली

'एक एक पर मुक़दमा'

ललित मोदी ने ट्वीट करके कहा है कि वो उन्हें भगोड़ा कहने वाले हर व्यक्ति पर मुक़दमा करेंगे.

उन्होंने ट्वीट में कहा है, "जो लोग मुझे भगोड़ा कह रहे हैं मैं उनपर एक एक कर मुक़दमा करूँगा. ऐसा तभी करें जब आपके पास सबूत हों या इसकी क़ीमत चुकाने के लिए तैयार रहें."

मोदी ने कहा है, "मैं किसी भी सज़ा के लिए तैयार हूँ. लेकिन मैं किसी राजनीतिक दबाव के आगे नहीं झुकूँगा. अदालत में मैं इसका हर तरह से मुकाबला करूँगा."

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर ललित मोदी की मदद के आरोप हैं.

साल 2010 में भारत के प्रवर्तन निदेशालय ने ललित मोदी के ख़िलाफ़ वित्तीय हेराफेरी की जाँच शुरू की थी. उस समय मोदी लंदन में थे. मोदी ने ख़ुद पर लगे आरोपों से इनकार किया. उसके बाद से वो भारत वापस नहीं आए हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)