मौत की सज़ा से पहले मांगी माफ़ी

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के बोस्टन शहर में दो साल पहले हुए बम धमाके के दोषी ज़ोख़ार सारनाएव ने हमले के पीड़ितों से माफ़ी मांगी है.

चेचन मूल के 21 वर्षीय सारनाएव ने अदालत में ख़ुद को औपचारिक तौर पर मौत की सज़ा सुनाए जाने से पहले ये माफ़ी मांगी.

सारनाएव ने कहा कि उन्होंने उन सब लोगों की बात सुनी जो मामले में गवाही देने आए और उन्होंने हमले में बचे लोगों की मज़बूती, धैर्य और गरिमा को भी देखा.

दो साल पहले मैराथन के दौरान हुए इस हमले में तीन लोग मारे गए थे जबकि 260 घायल हुए थे.

बम धमाके के तीन दिन बाद एक पुलिस अफसर पर घातक गोलीबारी के मामले में भी सारनाएव को दोषी करार दिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार