एमक्यूएम नेता की हत्या, ब्रितानी पुलिस पाक में

इमरान फारुक इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption डॉ. इमरान फारुक

ब्रितानी पुलिस अधिकारियों का एक दल पाकिस्तानी राजनेता इमरान फारुक़ की हत्या के सिलसिले में पूछताछ करने के लिए इस्लामाबाद पहुंचा है.

वर्ष 2010 में पाकिस्तान से निर्वासित फारुक़ की उत्तरी लंदन में उनके घर के पास ही चाकू मार कर हत्या कर दी गई थी.

फारुक पाकिस्तान की प्रभावशाली पार्टी मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पार्टी यानी एमक्यूएम के एक महत्वपूर्ण नेता थे.

हत्या के वक्त उनपर पाकिस्तान में हत्या और दूसरे अपराधों के आरोप थे जिन्हें उन्होंने राजनीति से प्रेरित बताया था.

तीन संदिग्धों से होगी पूछताछ

इमेज कॉपीरइट
Image caption डॉ. फारुक की उस दिन की सीसीटीवी फोटो जिस दिन उनकी हत्या हुई थी

कुछ दिन पहले ही उनकी हत्या के सिलसिले में पाकिस्तान की पुलिस ने दो संदिग्धों को पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा के पास हिरासत में लिया था.

खालिद शमीम और मोहसिन अली नाम के इन दो संदिग्धों को पाकिस्तान की फेडरल इंटेलिजेंस एजेंसी को सौंप दिया गया था.

पाक अधिकारियों के मुताबिक, एक तीसरे संदिग्ध, एमक्यूएम के कथित कार्यकर्ता मोहम्मद काशिफ कामरान को भी हिरासत में लिया गया था.

हालांकि एमक्यूएम ने इस बात से इंकार किया कि मोहम्मद काशिफ पार्टी के लिए काम करते हैं.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक ब्रितानी पुलिस अधिकारी इस हत्या के इन तीन संदिग्धों से पूछताछ के सिलसिले में ही पाकिस्तान आए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार