ट्यूनीशिया ने लगाया आपातकाल

इमेज कॉपीरइट Reuters

ट्यूनीशिया में कुछ दिन पहले हमले में 38 लोगों के मारे जाने के बाद वहाँ आपातकाल लगा दिया गया है.

26 जून को हुए हमले के बाद अधिकारियों ने वहाँ सुरक्षा इतंजाम पहले से ही कड़े कर दिए थे. होटलों और बीच पर हथियारबंद लोगों को तैनात किया गया है.

आईएस ने हमले की ज़िम्मेदारी ली थी. हमले के दौरान ट्यूनीशियाई सुरक्षा बलों की आलोचना हुई थी वो जल्द हरकत में नहीं आए थे जब एक हमलावर ने होटल में घुसने से पहले बीच पर पर्यटकों पर गोलियाँ चलाई थीं.

सुरक्षाबलों की आलोचना

इमेज कॉपीरइट AP

हाल के सालों में ये ट्यूनीशिया में सबसे घातक हमला था. इससे पहले मार्च में राजधानी ट्यूनिस में एक म्यूज़ियम पर हमले में 22 लोग मारे गए थे.

विशेषज्ञों का कहना है कि लीबिया में खराब हालात की वजह से ट्यूनीशिया पर भी खतरा है, खासकर तब जब कई ट्यूनीशियाई लोग सीरिया में लड़ने के बाद घर लौटे हैं.

आखि़री बार ट्यूनीशिया ने 2011 में आपातकाल घोषित किया था जब प्रदर्शनों के बाद तत्कालीन राष्ट्रपति को हटना पड़ा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)