लंदन ट्यूब के कामगार हड़ताल पर

लंदन ट्यूब इमेज कॉपीरइट

लंदन अंडरग्राउंड प्रबंधन की चार मजदूर यूनियन संघ के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत असफल रही है.

अब लंदन ट्यूब के करीब 20,000 कर्मी बुधवार शाम से 24 घंटे की हड़ताल पर जाएंगे.

द रेल मैरीटाइम एंड ट्रासपोर्ट यूनियन (आरएमटी), ट्रांसपोर्ट सेलरीड स्टाफ असोसिएशन(टीएसएसए) और अन्य श्रमिक संघों के सदस्य कल रात 9.30 बजे(बीएसटी) से हड़ताल पर चले जाएंगे.

लंदन अंडरग्राउंड और मज़दूर संघ ट्यूब की एक नई रात्रि सेवा पर समझौते पर पहुंचने की कोशिश कर रहे थे.

सोमवार को मज़दूर संघों ने एलयू के ताज़े वेतन प्रस्ताव को नामंज़ूर कर दिया.

इसमें इस साल वेतन में दो फीसदी बढ़ोतरी और रात्रिसंवा के ट्यूब चालकों के लिए 2000 पाउंड शामिल था.

ट्यूब की नई रात्रि सेवा सितंबर से शुरू होनी है.

'पैदल जाएं या साइकिल का इस्तेमाल करें'

इमेज कॉपीरइट PA

आरएमटी के महासचिव मिक कैश ने बताया, " यूनियन वार्ताकारों ने बहुत कोशिश की कि लंदन अंडरग्राउंड(प्रबंधन) सुरक्षा, काम-जीवन का संतुलन और निष्पक्षता के मुद्दे पर ध्यान दें, लेकिन वे इस बातचीत में मसले का कोई हल ना निकाल सके."

उन्होंने कहा कि फिलहाल इस पर कोई और बीतचीत अभी तय नहीं है.

ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन(टीएफएल) ने कहा कि गुरुवार को लगभग 200 अतिरिक्त बसें महत्वपूर्ण रास्तों पर चलाई जाएंगी.

लेकिन ये सलाह भी दी है कि जहां संभव हो, लोग पैदल जाएं या साइकल का इस्तेमाल करें.

लंदन में ट्यूब यातायात का अहम साधन है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार