लखवी पर मोदी की चीनी राष्ट्रपति से कड़ी आपत्ति

इमेज कॉपीरइट MEA INDIA

ब्रिक्स और शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में हिस्सा लेने गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की है.

इस बातचीत में मोदी ने मुंबई हमलों के कथित मास्टरमाइंड लखवी की रिहाई पर संयुक्त राष्ट्र के ज़रिए कार्रवाई करने के प्रस्ताव को चीन की ओर से रोके जाने पर चिंता जताई.

पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति की बैठक में मुंबई हमलों के कथित ज़िम्मेदार ज़कीउर रहमान लखवी की रिहाई पर ये प्रस्ताव भारत की तरफ से रखा गया था.

इस प्रस्ताव में लखवी को रिहा करने के लिए पाकिस्तान के खिलाफ़ कार्रवाई की मांग की गई थी.

लेकिन चीन के प्रतिनिधि ने इस आधार पर प्रस्ताव को ब्लॉक कर दिया था कि भारत ने इस संबंध में पर्याप्त सूचनाएं मुहैया नहीं करायी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

मोदी-शी की बातचीत के बाद विदेश सचिव जयशंकर ने बताया, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चीन द्वारा प्रस्ताव को रोके जाने का मुद्दा मज़बूती से उठाया.

जयशंकर ने चीन द्वारा दिए गए कमज़ोर साक्ष्यों के सिद्धांत को खारिज करते हुए कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि लखवी की भूमिका मुंबई हमलों में क्या थी?

अगर भारत के साक्ष्य कमज़ोर थे तो संयुक्त राष्ट्र में अन्य देशों ने इसे क्यों स्वीकार किया.

डेढ़ घंटे तक चली बैठक के दौरान मोदी ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से होकर गुजरने वाले चीन के आर्थिक गलियारे पर भी चिंता जताई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार