'जब पता चला कि मेरा पति गे है...'

  • 11 जुलाई 2015
टूटते रिश्तों का प्रतीक चिन्ह इमेज कॉपीरइट Think Stock

कई समलैंगिक पुरुष और महिलाएं विपरीत सेक्स के लोगों से शादी करते हैं.

लेकिन ऐसे लोगों के जीवनसाथी पर उस वक़्त क्या गुजरती है, जब उन्हें अपनी शादी बिखरती नज़र आती है?

हाल में हमने ऐसे समलैंगिक पुरुषों की कहानियां बताई थीं, जिन्होंने महिलाओं से शादी की.

इसे लेकर हमें उन पाठकों की जबरदस्त प्रतिक्रियाएं मिलीं, जिनका साबका इस सच्चाई के दूसरे पहलू से हुआ था. यानी जिनकी पत्नियां या फिर पति शादी के बाद समलैंगिक निकले.

टूटा रिश्ता

इमेज कॉपीरइट

इनमें से एक एमा हैं, जिन्हें एक साल पहले ही पता चला कि उनके पति 'गे' हैं.

एमा कहती हैं, "ऐसे लोगों के बारे में कुछ भी कहना होमोफ़ोबिक होने जैसा लगता है. लेकिन वो तो अपनी बेबस बीवी को छोड़कर नई ज़िंदगी की तरफ जा सकते हैं. पर आपको लगेगा कि आपकी पूरी ज़िंदगी बरबाद हो गई ."

सबसे मुश्किल बात होती है अपने पूर्व जीवनसाथी को पूरी ज़िंदादिली के साथ रिश्ते से अलग होने का जश्न मनाते देखना.

उन्हें इस बात की कोई फिक्र नहीं होती कि उन्होंने अपने पीछे तबाही के कैसे निशान छोड़े हैं.

'वो झूठा निकला'

इमेज कॉपीरइट Getty

ऐसा ही अनुभव 43 साल की कैरल का है.

उनके पूर्व पति अब समलैंगिकों के अधिकारों के लिए काम करते हैं.

उन्होंने एक संदेश देखा, जिसमें उनके पति को प्रेरणा देने वाला और रोल मॉडल बताया गया था.

वे कहती हैं, "मुझे इससे बड़ी चिढ़ हुई कि कोई उसमें ये दो खूबियां देख सकता है, जबकि उसने हमारे रिश्ते को खुद से और मुझसे झूठ बोलते हुए ही जिया."

कैरल के मुताबिक, "खुद को समलैंगिक स्वीकार करने की नाकामी से उसने हमारे परिवार को तबाह कर दिया. मेरे लिए इसमें गर्व करने की कोई बात नहीं है."

उन दोनों की शादी 2003 में हुई थी और उनके दो बच्चे हैं. वो बहुत खुश थीं, लेकिन उन्हें इस बात के संकेत मिलते रहे थे कि कहीं कुछ ग़लत है. उनके पति के कंप्यूटर में दर्ज गे डेटिंग प्रोफाइल भी शक की एक वजह था.

2009 में उनके पति ने बताया कि वो बाइसेक्सुअल हैं, लेकिन उनके साथ रहना चाहते हैं.

कैरल कहती हैं कि उन्हें ये मंजूर नहीं था लेकिन उन्हें लगा कि वो इसका कोई रास्ता निकाल सकते हैं क्योंकि वो ऐसा शख्स था, जिसके साथ वो अपनी ज़िंदगी बिताना चाहती थीं.

बिखरी दुनिया

इमेज कॉपीरइट Getty

केरोल बताती हैं, "एक दिन वो घर आए. कहा कि वो गे हैं और घर छोड़कर चले गए. मुझे लगा कि मेरी सारी दुनिया बिखर गई, लेकिन वो वापस आए और कहा कि चलो बच्चों की ख़ातिर हम एक साथ रहते हैं. मुझे पता नहीं था कि क्या करना है तो हम एक झूठ के सहारे दो साल रहे. दूसरों के लिए हम एक सामान्य खुशहाल दंपति थे."

लेकिन इससे बात नहीं बनी और दोनों का तलाक हो गया.

कैरल कहती हैं कि उन्हें जो धक्का लगा, वही उनके लिए सबसे बड़ी मुश्किल थी.

उनके पति के पास हालात से तालमेल बिठाने का मौका था, लेकिन उनके लिए सबकुछ बहुत जल्दी हो गया. उनके पति ने अब एक पुरुष से शादी कर ली है.

वो कहती हैं, "मुझे इससे उबरने में लंबा वक्त लगा. मेरे लिए ये भरोसे की बात थी. मैं किसी और पर दोबारा कैसे भरोसा कर सकती हूं?"

मुश्किल सवाल

इमेज कॉपीरइट Reuters

51 साल के केविन बताते हैं कि शादी के सात साल बाद तक उन्हें पता नहीं था कि उनकी पत्नी समलैंगिक है.

केविन कहते हैं, "एक दिन वो मेरे पास आई और कहा, अगर मेरी एक गर्लफ्रेंड हो तो आपको दिक्कत तो नहीं. अगर आपके साथी का विपरीत लिंग के किसी व्यक्ति के साथ अफेयर हो तो आप नाराज़ हो सकते हैं, लेकिन ये स्थिति ज्यादा मुश्किल है."

वो शादी तोड़ना नहीं चाहती थी, लेकिन केविन एक झूठ के साथ जिंदगी नहीं बिता सकते थे.

ऐसे में दोनों ने तलाक ले लिया. तब से दोनों के बीच बात नहीं हुई है.

केविन की ज़िंदगी बिखर गई और वो खुदकुशी के बारे में सोचने लगे.

कैसी मजबूरी?

इमेज कॉपीरइट AFP

समलैंगिक होने के बाद भी लोग सामान्य रिश्ते क्यों बनाते हैं, इसके तमाम कारण हैं.

हो सकता है कि उन्हें अपनी भावनाओं का सही अंदाजा न हो. हो सकता है उन्हें डर हो कि समाज उन्हें दूसरी नज़र से देेखेगा..

जिस वक़्त समाज समलैंकिग लोगों को कम स्वीकार करता था, उस वक्त उनमें से कुछ ने शादी के बाद सालों तक शादी का रिश्ता निभाया.

वेल्स रग्बी के पूर्व खिलाड़ी गारेथ थॉमस ने इस बात का जिक्र किया है कि वो ये क्यों नहीं मानते थे कि अगर उन्होंने गे होने की बात बता दी होती तो वो इस खेल में टॉप पर पहुंच पाते.

उन्होंने 2009 में कहा था कि वो असल भावनाओं को नज़रअंदाज करते रहे और अपनी बीवी से सच्चा प्यार करते थे.

संदेश

इमेज कॉपीरइट Getty

ऐसे लोग जो खुद को समलैंगिक मानते हैं लेकिन सामान्य रिश्ते को जी रहे हैं, उनके लिए कैरल और केविन का सीधा संदेश है.

कैरल कहती हैं, "आपको खुद से और अपने साथी से ईमानदारी बरतनी चाहिए खासकर जब आपके बच्चे भी हों."

केविन कहते हैं, "जितना जल्दी आप ऐसे रिश्ते से बाहर आ जाते हैं, उतना ही सबके लिए अच्छा होता है."

छह साल बाद वो अपनी ज़िंदगी को 'बेहतरीन' बताते हैं और खुद जैसे हालात से गुजरते लोगों की मदद करते हैं.

वो कहते हैं कि उनके जैसी स्थिति से रुबरू होने वाले लोगों को सपोर्ट ग्रुप स्ट्रेट पार्टनर्स अनॉनमस से संपर्क करना चाहिए.

(कुछ नाम बदल दिए गए हैं. स्ट्रेट पार्टनर्स अनॉनमस से support@straightpartnersanonymous.com पर संपर्क किया जा सकता है.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार