हमास नेता की सऊदी के शाह से बातचीत

खालिद मचाल इमेज कॉपीरइट AFP

सऊदी अरब के शाह सलमान ने फ़लस्तीनी चरमपंथी गुट हमास के नेता खालिद मच्चाल से बातचीत की.

चार सालों में ये पहला मौक़ा है जब सऊदी शाही घराने ने हमास से बातचीत की बात स्वीकारी.

चार साल पहले सऊदी अरब ने सार्वजनिक रूप से बातचीत की बात मानी थी.

मच्चाल की मक्का यात्रा के दौरान ये बातचीत हुई.

सऊदी अरब की सरकारी समाचार एजेंसी एसपीए के मुताबिक़ मच्चाल ने, "फलस्तीनी संघर्ष में सऊदी राजघराने के सकारात्मक रुख की सराहना की."

तनावपूर्ण संबंध

इमेज कॉपीरइट AFP

हाल के सालों में हमास और सऊदी अरब के संबंध तनावपूर्ण रहे हैं.

साल 2013 में जब मिस्र में सेना ने राष्ट्रपति मोहम्मद मोरसी को अपदस्थ किया था तब सऊदी अरब ने सेना की मदद की थी.

हमास के मोरसी और मुस्लिम ब्रदरहुड से काफ़ी दोस्ताना संबंध थे.

हमास के ईरान से भी पारंपरिक तौर पर अच्छे संबंध है जो सऊदी अरब के क्षेत्रीय प्रतिस्पर्धी के तौर पर देखा जाता है.

वैसे संवादाताओँ के मुताबिक़ सऊदी अधिकारी और हमास पर्दे के पीछे से हमेशा संपर्क में रहे हैं.

मच्चाल कतर में 2012 से निर्वासित जीवन बिता रहे हैं.

उन्होंने सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद के ख़िलाफ़ विद्रोहियों का साथ दिया था.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)