तुर्की धमाके के एक संदिग्ध की पहचान

  • 21 जुलाई 2015
तुर्की में हुए धमाके में घायल हुआ एक आदमी इमेज कॉपीरइट Reuters

तुर्की के सुरुच शहर में हुए आत्मघाती बम धमाके में शामिल एक संदिग्ध की पहचान हो गई है.

सोमवार को हुए धमाके में 32 युवा एक्टिविस्टों की मौत हो गई थी. वहीं क़रीब 100 लोग घायल हुए हैं.

तुर्की के प्रधानमंत्री अहमद दावूतुलू ने ये जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सीरिया सीमा के निकट हुए इस धमाके से जुड़े संदिग्ध के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संपर्कों की जाँच की जा रही है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि 'बहुत ज़्यादा संभावना' है कि इस धमाके लिए चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ज़िम्मेदार है.

हादसे के बाद तुर्की सरकार ने सीरिया सीमा पर सुरक्षा बढ़ाने की बात कही है.

दावूतुलु ने कहा, "जो भी ज़िम्मेदार होगा उसके ख़िलाफ़ हर ज़रूरी कार्रवाई की जाएगी."

उन्होंने इसे तुर्की को निशाना बनाकर किया गया हमला बताया.

ज़रूरी कार्रवाई

इमेज कॉपीरइट AP

प्रधानमंत्री ने इनकार किया कि सत्ताधारी जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी (एकेपी) ने इस्लामिक स्टेट के चरमपंथ ख़िलाफ़ पर्याप्त क़दम नहीं उठाए हैं.

उन्होंने कहा कि सरकार ने 'कभी किसी चरमपंथी संगठन को बर्दाश्त नहीं किया है.'

सीरिया सीमा के करीब सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए बुधवार को तुर्की कैबिनेट की बैठक होने वाली है.

इस्लामिक स्टेट ने इस हमले के पीछे हाथ होने पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार