धमाकों ने 35 हज़ार लोगों को बेघर किया

  • 14 अगस्त 2015
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

चीन ने तियांजिन शहर के धमाके वाले स्थल सेना के विशेषज्ञों को भेजा गया है जो वहां मौजूद रसायनों की सफ़ाई करेंगे.

सरकारी मीडिया के अनुसार उत्तरी शहर में बुधवार को हुए धमाके में 50 लोग मारे गए थे और क़रीब 400 से अधिक घायल हुए थे.

अभी तक धमाके की वजह का पता नहीं लग सका है और न ही यह स्पष्ट है कि धमाके में कोई रसायन लीक हुआ था या नहीं.

धमाके से प्रभावित क़रीब 35 हज़ार लोग अस्थायी आश्रयों में रह रहे हैं.

चीन की सरकारी न्यूज़ एजेंसी शिनुआ के अनुसार दुर्घटना के 24 घंटों बाद भी बचाव दल घायलों को बचाने और साथ ही आग को क़ाबू कर पाने के मुश्किल काम में लगे हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

रुईहे लॉजिस्टिक्स नामक कंपनी के गोदाम में धमाका हुआ था. इस गोदाम में सोडियम साईनाइड और टोलुइन डायसोसाएनेट जैसे ख़तरनाक रसायन रखे हुए थे.

वहीं 'पीपल्स डेली' अख़बार के अनुसार बचाव दल गोदाम में मौजूद क़रीब 700 टन सोडियम साईनाइड हटाने में जुटा हुआ है. हालांकि इलाके में हाइड्रोजन परआॅक्साइड भी डालने की तैयारी हो रही है जिससे इस ख़तरनाक रसायन के असर को कम किया जा सके.

वहीं प्रधानमंत्री ली किचियांग ने मामले की निष्पक्ष जांच का भरोसा जताया है.

कंपनी के कर्मचारी लापता

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

शिनुआ न्यूज़ एजेंसी को दिए बयान में कंपनी ने कहा कि धमाके के बाद उसके कई कर्मचारी लापता हैं. इस हादसे में 17 दमकलकर्मिों की भी मौत हो गई है.

दोनों ही धमाके इतने ज़बरदस्त थे कि वो आकाश में भी बहुत उपर से दिख सकते थे. धमाकों इतना तीव्र था कि पास के कई किलोमीटर दूर तक के मकानों के शीशे चकनाचूर हो गए.

वहीं बंदरगाह का भी काफी हिस्सा तबाह हो गया और सैकड़ों कारें मलबे में तब्दील हो गईं.

हानिकारक हो सकता है

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

तियांजिन के पर्यावरण संरक्षण ब्यूरो के प्रमुख वेने वुरुई के अनुसार इलाके के प्रदूषण स्तर पर नज़र रखी जा रही है.

उन्होंने कहा, ''अगर आप इस माहौल में ज़्यादा देर तक रहते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है.''

उन्होंने आगे बताया, ''हालांकि यह अभी हमारे मानकों के अनुसार ख़तरनाक स्तर पर नहीं पहुंचा है.''

वहीं एक नज़दीकी फैक्टरी में काम करने वाले सुरक्षा गार्ड ने बताया कि उन्होंने आग देखी थी लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि धमाका होगा. गार्ड ने बताया, ''मैंने अचानक से धमाका सुना और मैं तुरंत नीचे लेट गया लेकिन उसके बावजूद मैं घायल हो गया.''

उन्होंने बताया, ''मैं जिस बूथ में था वो पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया. इसके बाद मैंने दौड़ना शुरू कर दिया और दूसरा धमाका सुना. इसके बाद मेरे पूरे शरीर पर खून के छींटे थे.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार