पेशावर हमले में शामिल 6 को मौत की सज़ा

पेशावर इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने पेशावर में आर्मी स्कूल पर हमले में शामिल 7 मुजरिमों में से 6 को मौत की सज़ा और एक को उम्रक़ैद की सज़ा सुनाई है.

पाकिस्तानी सेना के जनसम्पर्क विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि थल सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ़ ने इन सज़ाओं की पुष्टि कर दी है.

इमेज कॉपीरइट AFP

लेकिन मुजरिमों के पास इसके ख़िलाफ़ उच्च अदालत में अपील करने का अधिकार है.

दिसम्बर 2014 में पेशावर के आर्मी पब्लिक स्कूल पर हुए हमले में 140 से अधिक लोग मारे गए थे जिनमें 130 से ज़्यादा बच्चे थे.

सेना के बयान में कहा है कि हज़रत अली, मुजीबुर्रहमान, सबील, मौलवी अब्दुस्सलाम, ताज मोहम्मद और अतीक़ुर्रहमान को मौत की सज़ा सुनाई गई है.

इनके अलावा क़ारी किफ़ायतुल्लाह को उम्रक़ैद की सज़ा सुनाई गई है.

सज़ा पाने वालों में से 6 का संबंध तौहिदुल जिहाद नामक संगठन से बताया जाता है.

जबकि ताज मोहम्मद तहरीके तालिबान पाकिस्तान का सक्रिय सदस्य बताया जाता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार