मुसलमानों को मारने की साज़िश में अमरीकी दोषी

ग्लेंडन स्कॉट क्रॉफ़र्ड इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका में एक व्यक्ति को मुसलमानों को मारने के लिए रीमोट कंट्रोल से चलने वाला विकिरण उपकरण बनाने की साज़िश रचने का दोषी पाया गया है.

दोषी क़रार दिए गए ग्लेंडन स्कॉट क्रॉफ़र्ड का मानना था कि गोरी नस्ल के लोग दुनिया में सबसे अच्छे होते हैं.

न्यूयॉर्क राज्य के अल्बनी शहर में उन पर मुक़दमा चला.

अभियोजन पक्ष ने आरोप लगाया कि ग्लेंडन स्कॉट क्रॉफ़र्ड विकिरण फैलाने वाला उपकरण तैयार करने में जुटे थे और इस पर आने वाले खर्च के लिए उन्होंने एक गोरे नस्लवादी संगठन कू क्लक्स क्लान के एक अहम सदस्य से बात भी की.

लेकिन क्रॉफ़र्ड ने जिस आदमी से बात की, वे जांच एजेंसी एफ़बीआई के मुख़बिर निकले.

ज्यूरी ने बचाव पक्ष की इस दलील को ख़ारिज कर दिया कि क्रॉफ़र्ड को फंसाया गया.

उन्हें दिसंबर में सज़ा सुनाई जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार