'एशले मैडिसन हैकिंग के बाद भी हिट'

ashley madison noel इमेज कॉपीरइट Reuters

डेटिंग वेबसाइट 'एशले मैडिसन' का दावा है कि हैकिंग के बाद भी लोगों ने वेबसाइट की सेवाएं लेना नहीं की हैं और पिछले हफ़्ते में 'लाखों नए लोग' वेबसाइट के सदस्य बने हैं.

'एशले मैडिसन' वेबसाइट चलाने वाली कंपनी एविड लाइफ़ मीडिया के अध्यक्ष नोअल बिदरमैन ने शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया था.

इसी महीने डेटिंग और रोमांस का मौका देने वाली ये वेबसाइट तब सुर्खियों में आई जब हैकर्स ने इससे करीब 3 करोड़ 30 लाख अकाउंट्स की जानकारी चोरी कर इसे ऑनलाइन पब्लिश कर दिया.

फर्ज़ी 'एंजल्स' !

इमेज कॉपीरइट AFP

जो डेटा ऑनलाइन लीक किया गया था उसमें करोड़ों सदस्यों की निजी जानकारी शामिल थी.

इस वेबसाइट की एक खास बात ये है कि पुरुषों को संदेश भेजने के लिए पैसे खर्च करने पड़ते हैं लेकिन महिलाओं को पुरुषों तक संदेश भेजने की सेवा मुफ्त है.

वेबसाइट पर 'एशले एंजल्स' नाम से फर्जी प्रॉफाइल बनाने की बात भी सामने आई थी.

28 लाख संदेश

कंपनी का दावा है कि पिछले हफ्ते ही महिला सदस्यों ने 'ऐशले मैडिसन' के ज़रिए 28 लाख संदेश भेजे हैं.

कंपनी ने सोमवार को आरोप लगाया कि 'एशले मैडिसन' का डेटा लीक होने के बाद कुछ पत्रकार हैकरों से ज़्यादा निशाना वेबसाइट चलाने वाली कंपनी को बना रहे हैं.

पिछले हफ्ते वेबसाइट पर संदेश भेजने वाले पुरुष और महिलाओं का अनुपात 1.2 से 1 रहा.

डेटा हैक होने से पहले कंपनी ने लंदन स्टॉक एक्सचेंज में उतरने की योजना का ऐलान किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार