'वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए भारत बेहतर'

क्रिस्टीन लगार्ड इमेज कॉपीरइट Getty

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रमुख क्रिस्टीन लगार्ड ने कहा है कि उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं में अगर कहीं बढ़ोतरी है, तो वह देश भारत है.

तुर्की की राजधानी अंकारा में जी-20 देशों के वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंक्स के गवर्नर्स की बैठक में उन्होंने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था के हिसाब से चुनिंदा बेहतर जगहों में भारत भी शामिल है.

इस बैठक में चीनी अर्थव्यवस्था में आर्थिक मंदी और दुनियाभर के बाज़ारों में अस्थिरता पर विचार-विमर्श किया गया.

बैठक में चीन ने भरोसा दिलाया कि उसकी अर्थव्यवस्था धराशायी नहीं होगी और धीमी रफ्तार से ही सही, लेकिन आगे बढ़ेगी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

चीन ने पिछले महीने अपनी मुद्रा का अवमूल्यन किया था. उसके बाद दुनियाभर के शेयर बाज़ारों में गिरावट देखी गई थी.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, इस बैठक में भारत का कहना था, ''मुद्रा का अवमूल्यन ऐसे समय किया जाना जब वैश्विक मांग में सुस्ती हो, वैश्विक अर्थव्यवस्था की स्थिरता के लिए ख़तरे की बात है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार