ऑस्ट्रिया-जर्मनी ने प्रवासियों के लिए सीमा खोली

  • 5 सितंबर 2015
प्रवासी इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

ऑस्ट्रिया और जर्मनी ने हज़ारों प्रवासियों के लिए अपनी सीमाएं खोल दी हैं.

ये प्रवासी सीरिया जैसे संघर्ष वाले इलाक़ों से बेहतर जीवन की तलाश में यूरोप पहुंचे हैं.

क्या है यूरोप का प्रवासी संकट

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

हंगरी के रास्ते लगभग 10 हज़ार प्रवासी म्यूनिख पहुंचे हैं जहां उनका स्वागत हुआ है.

विशेष ट्रेन से पहुंचे लगभग 450 प्रवासियों का जर्मन लोगों ने मिठाई खिलाकर अभिवादन किया.

शरणार्थियों संकट की दस मार्मिक तस्वीरें

इमेज कॉपीरइट EPA

कुछ दिन पहले हंगरी ने इन प्रवासियों को आगे बढ़ने से रोक दिया था जिसकी वजह से बुडापेस्ट में प्रवासियों की पुलिस के साथ झड़पें हुई थीं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रमुख कैथरीन एश्टन ने कहा है कि प्रवासी-संकट की वजह से संगठन की विश्वसनीयता दांव पर लगी है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उनका कहना है कि यूरोपीय संघ इस संकट से किस तरह निपटता है, उसी से संगठन की भूमिका तय होगी.

इमेज कॉपीरइट EPA

जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल ने कहा है कि उनका देश बाहर से आ रहे लोगों का ख़्याल रख सकता है और इसके लिए टैक्स बढ़ाने या बजट संबंधी कोई दिक्कत नहीं होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार