परमाणु हथियार बनाते रहेंगे: पाकिस्तान

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तान का कहना है कि क्षेत्र में सैन्य असंतुलन को देखते हुए वो परमाणु हथियार विकसित करने का काम जारी रखेगा.

पाकिस्तान की 'न्यूक्लियर कमांड एंड कंट्रोल अथॉरिटी' ने कहा है कि सभी तरह के आक्रमणों से निपटने के लिए परमाणु हथियार ज़रूरी हैं.

पाकिस्तान की ये घोषणा ऐसे समय में हुई, जब पड़ोसी भारत के साथ उसके रिश्ते तनाव का शिकार हैं.

पिछले कुछ हफ़्तों में सीमा पर गोलाबारी में दोनों देशों के कई नागरिक मारे गए हैं.

जारी रहेगी नीति

Image caption रूस के उफा में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की मुलाकात के बावजूद रिश्तों में बेहतरी के संकेत नहीं दिखते

पाकिस्तान में 'न्यूक्लियर कमांड एंड कंट्रोल अथॉरिटी' परमाणु कार्यक्रम पर फ़ैसला लेने वाली सर्वोच्च संस्था है और इसकी अध्यक्षता पाकिस्तान के प्रधानमंत्री करते हैं.

न्यूक्लियर कमांड एंड कंट्रोल अथॉरिटी के जिस कार्यक्रम में परमाणु हथियार बनाते रहने की घोषणा की गई, उसमें पाकिस्तान की तीनों सेनाओं के प्रमुख, परमाणु कार्यक्रम से जुड़े सैन्य और असैन्य अधिकारी और कई मंत्री भी मौजूद थे.

इस कार्यक्रम के बाद जारी होने वाले बयान में भारत का नाम लिए बग़ैर कहा गया कि दक्षिण एशिया में बढ़ते हुए सैन्य असंतुलन को देखते हुए पाकिस्तान परमाणु हथियार बनाने की नीति को जारी रखेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार