सीमा पर अस्थायी रोक लगाएगा जर्मनी

थोमास दे मेजियरे इमेज कॉपीरइट EPA

जर्मनी ऑस्ट्रिया से लगती सीमा पर अस्थायी जांच की व्यवस्था बनाएगा. ये व्यवस्था प्रवासियों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लागू की जा रही है.

गृहमंत्री थोमास दे मेजियरे ने इस बारे में जानकारी दी.

गृहमंत्री ने कहा कि शरणार्थी, शरण देने वाले देश को ‘’नहीं चुन’’ सकते. इसके सा थी ही उन्होंने यूरोपीय संघ के देशों से और सहयोग की मांग की.

इमेज कॉपीरइट AP

जर्मनी और ऑस्ट्रिया के बीच रेल सेवा 12 घंटे के लिए रोक दी गई है.

जर्मनी के वाइस चांसलर सिगमार गाब्रिएल ने कहा है कि जर्मनी,’’अपनी क्षमताओं की सीमा पर’’ पहुंच चुका है, शनिवार को जर्मन शहर म्युनिख में 13 हज़ार प्रवासी पहुंचे.ॉ

आठ लाख शरणार्थी

जर्मनी इस साल आठ लाख शरणार्थियों के पहुंचने की उम्मीद कर रहा है.

गृहमंत्री मेजियरे ने पत्रकारों से कहा, ''इस कदम का मकसद जर्मनी में पहुंच ही भीड़ को सीमित करना और लोगों के देश में आने पर की जाने वाली प्रक्रियाओं को फिर से व्यवस्थित करना है.''

इमेज कॉपीरइट EPA

मेजियरे ने ज्यादा ब्यौरा नहीं दिया. जर्मनी का ये कदम शेंगेन ज़ोन के सिद्धांतों के खिलाफ़ है.

इन सिद्धांतों में कई यूरोपीय देशों के बीच मुक्त आवाजाही की अनुमति दी गई है. हालांकि ये समझौता अस्थायी रूप से इस सुविधा को रोकने की अनुमति भी देता है.

जर्मनी की ऑस्ट्रिया जाने वाली रेल सेवा डॉयचे बान सोमवार सुबह 3 बजे (जीएमटी) तक बंद रहेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार