चीन: 'इन नारों पर सालों से छले जा रहे हैं'

  • 28 सितंबर 2015
रेन चे चीयांग इमेज कॉपीरइट Getty

चीन में माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट विबो पर देश के प्रॉपर्टी मुग़ल कहे जाने वाले रेन चे चीयांग की एक पोस्ट ने एक राजनीतिक बहस छेड़ दी है.

उन्होंने यह पोस्ट "हम कम्युनिज़्म के उत्तराधिकारी हैं" हैशटैग के साथ डाली है.

सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की युवा शाखा कम्युनिस्ट यूथ लीग ने "हम कम्युनिज़्म के उत्तराधिकारी हैं" शीर्षक के साथ पोस्ट डाली थी जिसके जवाब में रेन ने लिखा था, "इन नारों की आड़ में हम सालों से छले जा रहे हैं."

रेन ने अपनी परवरिश का ज़िक्र करते हुए बताया है कि किस तरह उनके माता पिता को सांस्कृतिक क्रांति के दौरान किसान बनने के लिए मजबूर किया गया.

हालांकि उन्होंने कम्युनिस्ट विचार की आलोचना नहीं की. अपने कई साक्षात्कारों में ख़ुद को प्रतिबद्ध सोशलिस्ट बताया है.

लेकिन उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी की यूथ लीग की बयानबाज़ी को लेकर उसे आड़े हाथ ज़रूर लिया.

बहस

इमेज कॉपीरइट Reuters

रेन पहले भी कई विवादों में रहे हैं. चीन में लोग उन्हें बेबाक बोलने की आदत की वजह से 'तोप' कहकर पुकारते हैं.

विबो पर उनके तीन करोड़ 30 लाख फॉलोअर्स हैं. रेन चे चीयांग की तुलना अमरीका के राष्ट्रपति की दौड़ में शामिल रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प से की जाती है.

कम्युनिस्ट पार्टी की युवा शाखा पर की गई उनकी आलोचना ख़ासी चर्चा में है.

इससे चीन की राजनीति के इतिहास और भविष्य पर बहस शुरू हो गई है.

चीन में मकानों की बढ़ती क़ीमत को लेकर रेन का विरोध भी हो चुका है लेकिन इसे लेकर उन्हें कोई मलाल नहीं है.

एक बार उनके एक आलोचक ने भाषण के दौरान उन पर जूते फेंके थे. तब उन्होंने मज़ाक में कहा था कि विरोध करने वाले शायद वो लोग है जो मकान का अग्रिम भुगतान करने में असमर्थ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार