कुंदूज़ में तीन सहायताकर्मियों की मौत

एमएसएफ़ का अस्पताल इमेज कॉपीरइट MSF
Image caption एमएसएफ़ का कहना है कि उसके तीस कर्मचारी लापता हैं.

स्वास्थ्य सेवाओं में मदद करने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (एमएसएफ़) का कहना है कि अफ़ग़ानिस्तान के कुंदूज़ में बमबारी में उसके तीन कर्मचारी मारे गए हैं.

अमरीकी लड़ाकू विमान उस समय हवाई हमले कर रहे थे. नेटो ने माना है कि अस्पताल पर बम गिरे हो सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption हमले के वक़्त अस्पताल में 105 मरीज़ मौजूद थे.

संस्था का कहना है कि 30 अन्य कर्मचारी लापता हैं. मारे गए लोग किन देशों के हैं अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है.

हमले के वक़्त अस्पताल में 105 मरीज़ थे.

इमेज कॉपीरइट MSF
Image caption अस्पताल पर हमले के बाद की ये तस्वीर एमएसएफ़ ने जारी की है.

तालिबान ने सोमवार को कुंदूज़ पर क़ब्ज़ा कर लिया था जिसके बाद से सैन्यबलों और तालिबान के बीच लड़ाई जारी है.

पिछले चौदह सालों के दौरान कुंदूज़ पहला बड़ा शहर है जो तालिबान के क़ब्ज़े में आया है.

इमेज कॉपीरइट EPA

संस्था ने कहा है कि कुंदूज़ में उसका अस्पताल लगातार हो रही बमबारी की चपेट में आ गया और बुरी तरह बर्बाद हो गया.

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बमबारी के पीछे कौन है.

एमएसएफ़ के निदेशक (अभियान) बार्ट जेनसेंस ने कहा "हम अपने कर्मचारियों और मरीजों की मौत और इससे कुंदूज़ में स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले असर से सदमे में हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार