एमएसएफ ने कुंदुज़ में अस्पताल छोड़ा

  • 4 अक्तूबर 2015
अफ़ग़ानिस्तान के कुंदुज में अस्पताल इमेज कॉपीरइट AFP

अंतरराष्ट्रीय सहायता संस्था मेडेसाँ सौं फ्रंटियर (एमएसएफ) के कर्मचारियों ने अफ़ग़ानिस्तान के कुंदुज़ में अपने अस्पताल को छोड़ दिया है.

एमएसएफ के मुताबिक़ अमरीका के नेतृत्व वाले सैन्य गठबंधन नाटो ने अस्पताल पर हमला किया था जिसमें 19 लोगों की मौत हो गई.

हालांकि एमएसएफ का कहना है कि उसके कर्मचारी कुंदुज़ के अन्य अस्पतालों में घायलों का इलाज कर रहे हैं.

कुंदुज़ पर कुछ दिनों पहले हुए तालिबान के कब्ज़े के बाद अफ़ग़ान सेना ने शहर के ज़्यादातर हिस्सों को वापस ले लिया है.

एमएसएफ ने कहा है कि वह अपने अधिकांश कर्मचारियों को इस इलाक़े से बाहर निकाल रहा है.

समाचार एजेंसी एएफपी से बात करते हुए संस्था की प्रवक्ता ने कहा, "एमएसएफ के अस्पताल में अब काम नहीं हो रहा. हम अभी नहीं कह सकते कि एमएसएफ का ट्रॉमा सेंटर कभी कुंदुज़ में खुलेगा या नहीं."

हज़ारों लोगों ने छोड़ा शहर

इमेज कॉपीरइट EPA

एमएसएफ का दावा है कि यह अस्पताल कुंदुज़ और पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान में हज़ारों लोगों के लिए काफी मददगार था.

कुंदुज़ की लड़ाई से बचकर निकले एक डॉक्टर जमाल ख़ान ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया, "वहां कोई डॉक्टर नहीं है, दवा नहीं है, कोई इलाज नहीं हो पा रहा."

उन्होंने कहा कि शहर में लोग मारे जा रहे हैं लेकिन शव उठाने के लिए भी कोई मदद नहीं कर रहा और करीब 4 हज़ार लोग शहर को छोड़ने पर मजबूर हुए हैं.

इससे पहले शनिवार को अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अस्पताल पर हमले को लेकर शोक जताया.

अमरीका ने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार