फ्रांस में बाढ़ से 16 लोगों की मौत

  • 4 अक्तूबर 2015

तूफ़ान और मूसलाधार बारिश से दक्षिण-पूर्व फ्रांस में 16 लोग मारे गए हैं.

अधिकारियों का कहना है कि इस वजह से बिजली की आपूर्ति और यातायात प्रभावित हुआ है.

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलोंद ने राहत और बचाव कर्मियों के प्रति आभार जताया और प्रभावितों के प्रति एकजुटता दिखाई.

भूमध्यसागर के किनारे और इटली की सीमा पर बसा फ्रेंच रिवेरिया शनिवार शाम हुई भारी बारिश से प्रभावित हुआ है.

नीस शहर में केवल दो दिन में ही औसतन पूरे साल होने वाली बारिश की दस फ़ीसदी बारिश दर्ज की गई.

ब्राग्यू नदी के किनारे टूट गए हैं, और नदी का पानी आसपास के शहरों और क़स्बों में घुस गया है. सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई तस्वीरों में कांस शहर की सड़कों पर बाढ़ का पानी दिखाया गया है.

कारें बहीं

शहर के मेयर डेविस लिसनार्ड का कहना है कि कुछ कारें बहकर समुद्र में चली गई हैं.

उन्होंने कहा, '' हमने बहुत से लोगों को बचाया है और हम लोगों को लूटपाट को लेकर सतर्क रहना होगा.''

इस इलाक़े के मुख्य रास्ते को बंद कर दिया गया है. ट्रेनों का संचालन रोक दिया गया है. बहुत से मुसाफ़िरों ने नीस के हवाई अड्डे पर रात बिताई.शहर के 35 हजार घरों में बिजली नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार