यमन के प्रधानमंत्री बाल-बाल बचे

  • 7 अक्तूबर 2015
यमन में क़स्र होटल पर हमला इमेज कॉपीरइट AFP

यमन के अदन में एक होटल और दो सैन्य ठिकानों पर इस्लामिक स्टेट के हमले में सऊदी अरब गठबंधन सेना के 15 सैनिक और सरकार समर्थक लड़ाके मारे गए हैं.

संयुक्त अरब अमीरात के मीडिया के मुताबिक 'द क़स्र' होटल को निशाना बनाया गया है.

अदन में संयुक्त अरब अमीरात की सेना का मुख्यालय इसी होटल के पास शेख़ फ़रीद अल अवलाक़ी के महल में है.

यमन के प्रधानमंत्री का मुख्यालय इसी होटल में है. प्रधानमंत्री ख़ालेद बाहा और उनकी सरकार के सदस्यों को हमले में कोई नुक़सान नहीं हुआ.

संयुक्त अरब अमीरात की मीडिया ने हमले के लिए हूती विद्रोहियों के रॉकेटों को ज़िम्मेदार बताया. जबकि इस्लामिक स्टेट ने दावा किया कि हमला आत्मघाती था.

इस्लामिक स्टेट के सहयोगी संगठन ने, जिसका नाम अदन-अब्यान प्रांत है, एक ऑनलाइन बयान में दावा किया कि चार आत्मघाती हमले किए गए हैं जिनमें से दो में क़स्र होटल को निशाना बनाया गया.

Image caption यमन में संघर्ष को संयुक्त राष्ट्र ने मानवीय त्रास्दी क़रार दिया है.

संघर्ष विराम

इसी बीच यमन के हूती विद्रोहियों ने पहली बार लिखित में संघर्ष समाप्ति के लिए क़दम उठाने का भरोसा दिया है.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव को लिखे एक ख़त में उन्होंने संघर्षविराम के लिए चरणबद्ध प्रक्रिया की बात कही है जिसके तहत शहरों से लड़ाके हटा लिए जाएंगे और सरकार राजधानी सना लौट आएगी.

सऊदी अरब के नेतृत्व में अरब गठबंधन ने हूतियों को भारी नुक़सान पहुँचाया है.

संयुक्त राष्ट्र यमन में युद्ध की समाप्ति के लिए शांति वार्ता के लिए प्रयास कर रहा है. यमन संघर्ष को संयुक्त राष्ट्र ने मानवीय त्रास्दी क़रार दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार